Tuesday, October 19, 2021
Homeनेशनलमुजफ्फरनगर में कल किसान महापंचायत, टिकैत बोले, हमें रोका तो बैरियर तोड़...

मुजफ्फरनगर में कल किसान महापंचायत, टिकैत बोले, हमें रोका तो बैरियर तोड़ देंगे

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली :
संयुक्त किसान मोर्चा ने रविवार को उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एक मेगा महापंचायत का आयोजन किया है। भारतीय किसान संघ के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि महापंचायत में पहुंचने वाले लोगों की संख्या को बताना असंभव है, लेकिन मैं वादा कर सकता हूं कि लोग बड़ी संख्या में पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों को महापंचायत तक पहुंचने से कोई नहीं रोक सकता और अगर उन्हें रोका गया तो हम बैरियर तोड़ते हुए पहुंचेंगे। पंजाब से लगभग 2,000 किसानों के मुजफ्फरनगर पहुंचने की उम्मीद है। वे अमृतसर से सुबह चार बजे, जालंधर से सुबह पांच बजे और लुधियाना से रविवार को सुबह छह बजे एक्सप्रेस ट्रेन पकड़ेंगे। दिल्ली की सीमा पर धरना स्थलों से 400-500 किसान महापंचायत के लिए रवाना होंगे। किसान टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर से बसों में शिफ्ट में निकल रहे हैं। शुक्रवार की रात धरना स्थलों से दो बसें मुजफ्फरनगर के लिए रवाना हो चुकी हैं। अन्य दो शनिवार सुबह रवाना हुई और दो और शाम करीब चार बजे रवाना होंगी।
गौरतलब है कि किसान केंद्र के तीनों नए कृषि कानूनों के खिलाफ एक साल से ज्यादा समय से विरोध कर रहे हैं।
‘मिशन यूपी’ की घोषणा का प्लान
एसकेएम ने मुजफ्फरनगर महापंचायत में ‘मिशन यूपी’ की घोषणा करने की योजना बनाई है और इसका लक्ष्य पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर लामबंदी करना है। राकेश टिकैत ने कहा, यह महापंचायत सिर्फ चुनाव से नहीं जुड़ी है। छह महीने बाद चुनाव है। यूपी में किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यूपी में बिजली की दरें भी सबसे ज्यादा हैं। 2016 के बाद से गन्ने की कीमत नहीं बढ़ी है। केंद्र ने इसे पांच रुपए पांच पैसे प्रति किलोग्राम बढ़ा दिया है। भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के महासचिव और कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन की अगुवाई कर रहे किसान मोर्चा के सदस्य युद्धवीर सिंह ने कहा कि किसान महापंचायत में केंद्रीय कृषि कानून, गन्ना समर्थन मूल्य और बिजली आपूर्ति जैसे मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और महाराष्ट्र सहित देश भर के किसान कार्यक्रम में भाग लेंगे।
सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई
केंद्रीय कृषि कानूनों सहित किसानों से जुड़े मुद्दों पर रविवार को होने वाली ‘किसान महापंचायत के लिए प्रांतीय सशस्त्र कांस्टेबुलरी (पीएसी) की छह कंपनियां और रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की दो कंपनियां तैनात की जाएंगी। सहारनपुर रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) प्रीतिंदर सिंह ने शनिवार को कहा कि कार्यक्रम की वीडियोग्राफी कराई जाएगी जबकि पांच वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी), सात अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) और 40 पुलिस निरीक्षक सुरक्षा ड्यूटी पर तैनात रहेंगे।

 

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE