Tuesday, May 24, 2022
HomeChandigarhसरकारी वाहनों को लेकर पंजाब सरकार एक्शन मोड़ में, कांग्रेस के पूर्व...

सरकारी वाहनों को लेकर पंजाब सरकार एक्शन मोड़ में, कांग्रेस के पूर्व मंत्री को कार शाखा के वाहन को वापस करने के लिए नोटिस जारी

  • सरकार बदलने के बाद पूर्व मंत्रियों को वापस करना होता है आवास और सरकारी वाहन

पंजाब में पूर्व मंत्रियों को सरकारी वाहन वापस करने के लिए पंजाब सरकार की ओर से नोटिस जारी कर दिए गए हैं। आमतौर पर सरकार बदलने के बाद पहले की सरकारों के मंत्रियों को सरकारी वाहनों को वापस करना होता है लेकिन कुछ नेता ऐसा नहीं करते।

इंडिया न्यूज, चंडीगढ़। पंजाब में नई सरकार बनने के बाद भी कई नेता अपनी लग्जरी को छोड़ने को तैयार नहीं है। ऐसे में अब सरकार को ही एक्शन लेने पर मजबूर होना पड़ रहा है। इसी को लेकर पंजाब सरकार ने अब पूर्व सरकार के समय के नेताओं से सरकार द्वारा मुहैया करवाई गई चीजों को वापस लेना शुरू कर दिया है।

आमतौर पर सरकार बदलने के बाद पहले की सरकारों के नेता सरकार द्वारा मिली सहूलियतों को खुद ही वापस करना शुरू कर देते है वहीं कुछ नेता अपने अधिकारियों के भरोसे ही रहते है। ऐसे में बाद में सरकार को ही ऐसे नेताओं को सरकारी चीजों को वापस करने के बारे में कहा जाता है। इसी को लेकर अब पंजाब सरकार एक्शन मोड़ में नजर आ रही है।

पूर्व उपमुख्यमंत्री को इनोवा गाड़ी वापस करने का नोटिस जारी

पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा को ट्रांसपोर्ट विभाग की तरफ से नोटिस जारी किया गया है। इस नोटिस में रंधावा को कैबिनेट रैक वाली इनोवा गाड़ी वापस करने के लिए कहा गया है। ट्रांसपोर्ट विभाग की तरफ से एक पत्र जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि यह गाड़ी सिर्फ कैबिनेट रैक के लिए मिलती है। इसलिए पूर्व मंत्री इस वाहन को वापिस कर दे।

स्टेट ट्रांसपोर्ट कमिशनर पंजाब की तरफ से जारी किए गए पत्र में लिखा गया है कि मंत्री कार शाखा की गाड़ी अभी भी पूर्व मंत्री के पास है। जबकि मोटर वाहन बोर्ड की हिदायतों के मुताबिक सिर्फ कैबिनेट मंत्रियों के लिए है। इसलिए पूर्व मंत्री से आग्रह करते हुए वाहन को मंत्री कार शाखा पंजाब में जमा करवाने के बारे में कहा गया है। रंधावा को यह कार कैबिनेट मंत्री बनाए जाने के बाद अलाट हुई थी।

बंगले पहले ही कर चुके हैं खाली

सरकार बदलने के बाद पंजाब के कांग्रेंसी नेताओं ने अपने सरकारी आवास को पहले ही खाली कर दिया था। हालांकि इसमें कुछ समय लगा था और कई मंत्रियों के सरकारी आवास से कीमती फर्नीचर एवं कुछ दूसरा सामान नहीं होने की बातें भी सामने आई थी।

लेकिन बाद में इस फर्नीचर के बारे में पूर्व मंत्री की ओर से विभाग को सारी जानकारी दे दी गई थी। आमतौर पर सरकार बदलने के बाद पूर्व मंत्रियों से सरकारी आवास एवं वाहन वापस ले लिया जाता है।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

यह भी पढ़ें : मेरठ के मवाना में केमिकल फैक्ट्री में लगी भीषण आग, 18 मजदूरों को बचाया

यह भी पढ़ें : Kabhi Eid Kabhi Diwali में हुई आयुष शर्मा की एंट्री, सलमान दूसरी बार शेयर करेंगे जीजा संग स्क्रीन

यह भी पढ़ें : Alia Bhatt ग्लोबल स्टार की लिस्ट में हुई शामिल, इस एक्ट्रेस को पीछे छोड़ जीता ये खिताब!

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular