Thursday, January 27, 2022
HomeCoronavirusprecautionary Dose: 60+वालों को कोरोना की "बूस्टर डोज" लगनी शुरू

precautionary Dose: 60+वालों को कोरोना की “बूस्टर डोज” लगनी शुरू

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
precautionary Dose: भारत में कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज, जिसे प्रिकॉशन डोज कहा जा रहा है, आज से यानि 10 जनवरी से लगनी शुरू हो चुकी है। कोरोना के बढ़ते केसों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में 60 साल की ऊपर की उम्र के लोगों के लिए (third dose) बूस्टर डोज का ऐलान किया था। देश के कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख और नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने बताया कि बूस्टर डोज या एहतियाती तीसरी डोज उसी वैक्सीन की लगेगी, जिसकी पहली दो डोज लगी है। (corona vaccine)

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में 60 साल से ज्यादा उम्र के करीब 11 करोड़ बुजुर्ग हैं। दिल्ली के साथ देश के अलग-अलग राज्यों में फ्रंटलाइन वर्कर्स और कोमॉर्बिडिटी (कई बीमारियों से ग्रसित) वाले 60 साल से ज्यादा की उम्र के लोगों को वैक्सीन की तीसरी डोज या प्रीकॉशन डोज लगना शुरू हो गई। बताया जा रहा है बुजुर्गों के साथ फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थकेयर वर्कर्स को भी यह तीसरा डोज दिया जाएगा। चुनाव में जिनकी ड्यूटी लगेगी उन्हें भी फ्रंटलाइन वर्कर की कैटेगरी में रखा गया है। इन्हें मिलाकर, देश में करीब तीन करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थकेयर वर्कर्स हैं।

कौन सी है तीन शर्तें? (precautionary Dose)

  • जो बुजुर्ग वैक्सीन के दोनों डोज लगवा चुके हों।
  • दूसरी डोज कम से कम 9 महीने (37 हफ्ते या 273 दिन) पहले लिया हो।
  • सिर्फ कोमॉर्बिडिटी (कई बीमारियों से ग्रसित) वाले बुजुर्ग ही तीसरी डोज ले सकेंगे।

वहीं जिन लोगों को तीन मई या उससे पहले दूसरी डोज लगी है उन्हें 31 जनवरी तक प्रीकॉशन डोज मिलेगी। जब भी संबंधित व्यक्ति प्रीकॉशन डोज के लिए एलिजिबल हो जाएगा, तो कोविन उसे टेक्स्ट मैसेज भेजकर सूचना देगा कि तीसरी डोज लगवाने का समय आ गया है।

precautionary Dose

प्रीकॉशन डोज के लिए क्या जरूरी है?

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि कोमॉर्बिडिटी वाले 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के बुजुर्गों को प्रीकॉशन डोज लेने के लिए डॉक्टर के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं। बल्कि ऐसे लोगों को डॉक्टर से सलाह लेने को कहा गया है। प्रीकॉशन डोज लेने के लिए आलनाइन स्लॉट बुकिंग के साथ वैक्सीन केंद्रों पर भी बुकिंग की जा सकेगी। हालांकि, प्रीकॉशन डोज किस वैक्सीन सेंटर पर मिलेगा, यह जानकारी आपको कोविन ऐप पर मिलेगी। प्रीकॉशन डोज या तीसरी डोज लेने के बाद लाभार्थी का सर्टिफिकेट अपने आप अपडेट हो जाएगा

क्या प्रीकॉशन डोज होगी मुफ्त?

सरकार के मुताबिक, प्रीकॉशन डोज सरकारी वैक्सीन केंद्रों पर मुफ्त होगा। हालांकि, प्राइवेट हॉस्पिटल या वैक्सीन केंद्रों पर इसके लिए पैसे देने पड़ेंगे। हालांकि सरकार ने लोगों से आग्रह किया है कि जो लोग सक्षम हैं, वे प्राइवेट अस्पतालों के वैक्सीन केंद्रों में भुगतान करके तीसरा डोज लगवाएं।

Also Read : Coronavirus India Update देश में कोविड के नए केस 1.30 लाख के पार, दिल्ली में 750 से ज्यादा डॉक्टर पॉजिटिव

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE