Thursday, January 20, 2022
HomeCoronavirusRajasthan Corona Guidelines: जयपुर-जोधपुर में 8वीं तक के स्कूल 17 जनवरी तक...

Rajasthan Corona Guidelines: जयपुर-जोधपुर में 8वीं तक के स्कूल 17 जनवरी तक बंद

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
Rajasthan Corona Guideline: दुनियाभर में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए राजस्थान सरकार ने बीते बुधवार को कैबिनेट बैठक के बाद नई गाइडलाइन जारी कर दी है। नई गाइडलाइन के मुताबिक जयपुर और जोधपुर में कक्षा एक से लेकर 8वीं तक के स्कूल 17 जनवरी 2022 तक बंद रहेंगे। कक्षा 9वीं से 12वीं और कॉलेजों में पढ़ाई चलती रहेगी। फिलहाल जयपुर, जोधपुर को छोड़ अन्य जिलों में स्कूल बंद नहीं होंगे। दूसरे जिलों में स्थिति कंट्रोल में है। वहां आफलाइन पढ़ाई जारी रहेगी, लेकिन किसी भी जिले में स्थिति बिगड़ती है तो वहां कलेक्टर के आदेश पर स्कूलों को बंद किया जा सकता है।

क्या स्कूलों पर भी पाबंदी बढ़ेगी?

  • EducationMinister BD Kalla said: राजस्थान में फिलहाल आफलाइन और आनलाइन दोनों तरह से स्कूल खुले हैं। अभिभावक अपनी सुविधा अनुसार आनलाइन और आफलाइन दोनों तरीकों से अपने बच्चों को पढ़ा सकते हैं। जयपुर में कोरोना तेजी से फैल रहा है। इसलिए यहां पाबंदी बढ़ाई गई है, लेकिन राजस्थान में अब तक संक्रमण कंट्रोल में है। इसलिए फिलहाल आनलाइन और आफलाइन दोनों आप्शन से स्कूलों में पढ़ाई जारी है। सरकार फिर भी लगातार मॉनिटरिंग कर रही है।
  • ऐसे में अगर कोरोना का खतरा प्रदेशभर में बढ़ेगा, तो शिक्षा विभाग,गृह विभाग और हेल्थ डिपार्टमेंट की राय के आधार पर फैसला लेगा। अभिभावकों से कहा गया है कि बच्चों को स्कूल मास्क लगाकर भेजें। वहीं, स्कूल में कोई भी बच्चा कोरोना संक्रमित मिलता है तो 14 दिन के लिए स्कूल पूरी तरह बंद कर दिया जाएगा। फिलहाल प्रार्थना-सभा और खेलकूद जैसे आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा।
  • क्लास रूम में भी बच्चे सोशल डिस्टेंसिंग के आधार पर बैठेंगे ताकि पढ़ाई के साथ बच्चों को सुरक्षित रखा जा सके। सरकार ने प्रदेश के सभी कलेक्टर को स्थानीय स्थिति के आधार पर निर्णय लेने की छूट दे रखी है। शिक्षा विभाग के अधिकारी लगातार जिला प्रशासन के साथ कोर्डिनेट कर रहे हैं। ताकि स्कूली छात्रों को कोरोना के संक्रमण से बचाया जा सके।

इन नियमों का होगा पालन (Rajasthan Corona Guideline)

  • स्टूडेंट्स के बीच में दो गज की दूरी रहेगी। एक ही टेबल पर अगर तीन स्टूडेंट्स के बैठने की व्यवस्था है, तो वहां बीच की सीट खाली रहेगी। लंच के लिए बच्चों को ओपन स्पेस उपलब्ध कराना होगा। बच्चे लंच एक साथ नहीं करेंगे और वाटर बॉटल भी घर से लेकर आएंगे। अगर नहीं लाए तो स्कूल शुद्ध पानी उपलब्ध कराएगा।
  • स्टूडेंट्स-टीचर को फेस मास्क का उपयोग जरूरी। प्रार्थना-सभा नहीं होगी। खेलकूद गतिविधियों पर भी रोक रहेगी। विद्यार्थी को पेन, कॉपी, पेंसिल का आदान-प्रदान नहीं करना होगा। लंच बॉक्स किसी के साथ शेयर नहीं करना होगा। स्टूडेंट्स शारीरिक दूरी बनाए रखेंगे। निर्धारित की गई सीट पर ही बैठेंगे। स्कूल परिसर में अनावश्यक नहीं घूमेंगे।
  • पानी की बोतल, सैनिटाइजर साथ रखेंगे। जुकाम, खांसी, बुखार होने पर स्कूल नहीं आएंगे। स्कूल में एंट्री और एग्जिट पर टीचर की ड्यूटी रहेगी, जो मास्क लगाने वाले स्टूडेंट को ही एंट्री देंगे। बस में स्टूडेंट को सीट आवंटित की जाएगी, तय सीट पर ही बैठाया जाएगा। जो स्टूडेंट स्कूल नहीं आ सकेंगे, उन्हें आॅनलाइन अध्ययन सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।

Read More : Corona Update 24 घंटे में 37 हजार से मिले कोरोना संक्रमित, करीब 1900 ओमिक्रॉन के मरीज

Also Read :Corona Blast in Jharkhand पांच स्वास्थ्य कर्मियों समेत 25 मिले कोरोना पॉजिटिव

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE