Friday, December 3, 2021
HomeDelhiThreatening Mail to Gautam Gambhir दिल्ली पुलिस की साइबर सेल करेगी जांच

Threatening Mail to Gautam Gambhir दिल्ली पुलिस की साइबर सेल करेगी जांच

Threatening Mail to Gautam Gambhir

इंडिया न्यूज़ नई दिल्ली

कश्मीर के आईएसआईएस संगठन ने दिल्ली से भाजपा सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर व उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी है। यह धमकी सांसद को मंगलवार रात को मेल के माध्यम से दी गई है। जिसमें दहशतगर्दों ने साफ लिखा है कि हम तुम्हें और तुम्हारे परिवार को खत्म कर देंगे। धमकी मिलने के बाद सांसद गौतम गंभीर ने पुलिस में शिकायत दी है। जिसके बाद पुलिस ने एहतियात बरतते हुए भाजपा सांसद की सुरक्षा बढ़ दी है।

गंभीर की सुरक्षा को लेकर दिल्ली पुलिस गंभीर(Threatening Mail to Gautam Gambhir)

मामले की जानकारी देते हुए डीसीपी सेंट्रल श्वेता चौहान ने बताया कि हम जांच कर रहे हैं। वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए हमने भाजपा सांसद की सुरक्षा पहले से अधिक बढ़ा दी है। सांसद गौतम गंभीर के सुरक्षाकर्मियों में इजाफा करते हुए उनके आवास के बाहर भी  विशेष गार्द लगा दी गई है। वहीं हम मामले की जांच कर रहे हैं और तह तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं।

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल करेगी जांच(Threatening Mail to Gautam Gambhir)

पूर्व क्रिकेटर और पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर को मिली धमकी भरी मेल की जांच दिल्ली पुलिस की साइबर ब्रांच करेगी। जानकारी देते हुए डीसीपी श्वेता चौहान ने बताया कि भाजपा सांसद को मिली धमकी की हमारी टीम गहनता से जांच कर रही है। साइबर सैल यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि यह मेल कहां से और किसने भेजी है। श्वेता चौहान ने बताया कि पूरी जांच के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि यह सच में कोई धमकी भरा मेल है या किसी शरारती तत्व ने जान बूझकर शरारत करने की कोशिश की है। फिर भी हम पूरी तरह सतर्कता बरत रहे हैं और हमने सांसद गौतम गंभीर की सुरक्षा भी कड़ी कर दी है।

Also Read : 5 Ways to Keep Your Lungs Healthy बढ़ते प्रदूषण में इन तरीके से अपने लंग्स को मजबूत बनाएं

Read More : Designer Anklets ट्रेंडी और पारंपरिक लुक देती हैं डिजाइनर पायल

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE