Thursday, May 19, 2022
HomeDharamSurya Grahan 2022: 100 साल बाद सूर्य ग्रहण पर अनोखा संयोग! जान...

Surya Grahan 2022: 100 साल बाद सूर्य ग्रहण पर अनोखा संयोग! जान लें बेहद काम के ये उपाय

Shanishchari Amavasya & Surya Grahan 2022 - 30 अप्रैल को शनि अमावस्‍या के दिन सूर्य ग्रहण लग रहा है. इतना ही नहीं इससे एक दिन पहले ही शनि अपनी राशि भी बदल रहे हैं. ऐसे में शनि के प्रकोप से बचने के कुछ उपाय सूर्य ग्रहण के दिन कर लेना चाहिए.

Shanishchari Amavasya & Surya Grahan 2022

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली। अप्रैल महीना खत्‍म होने में कुछ ही दिन बाकी हैं और इस महीने का आखिरी दिन कई मायनों में बेहद खास है। महीने के आखिरी दिन 30 अप्रैल को साल का पहला सूर्य ग्रहण लग रहा है। इस दिन शनिवार है और अमावस्‍या भी है। साथ ही इससे एक दिन पहले 29 अप्रैल को शनि राशि बदलकर कुंभ में प्रवेश कर रहे हैं। बता दें कि यह पहला मौका नहीं है जब शनिवार या शनि देव को लेकर ऐसा खास संयोग बन रहा है। इससे पहले हिंदू नववर्ष विक्रम संवत की शुरुआत भी शनिवार से ही हुई थी।

नववर्ष के राजा हैं शनि
हिंदू नववर्ष विक्रम संवत 2079 के राजा ग्रह शनि हैं। शनि, सूर्य के पुत्र हैं। सूर्य पर ग्रहण के दिन शनि देव को समर्पित किया गया दिन शनिवार है। इसके अलावा इस दिन अमावस्‍या भी है। इतना ही नहीं 30 साल बाद शनि अपनी ही राशि कुंभ में प्रवेश भी कर रहे हैं। ज्‍योतिष के मुताबिक ऐसा अनूठा संयोग करीब 100 साल के बाद बन रहा है।

Shanishchari Amavasya & Surya Grahan 2022
Shanishchari Amavasya & Surya Grahan 2022

जरूर कर लें ये उपाय
शनि और सूर्य को लेकर बन रहे इस दुर्लभ संयोग के मौके पर कुछ उपाय करना बहुत प्रभावी साबित हो सकता है, जो लोग शनि की साढ़े साती और शनि की ढैय्या से परेशान चल रहे हैं, उन्हें अमावस्या पर विशेष उपाय करने से राहत मिल सकती है। इसके अलावा जिन राशि वालों पर साढ़े साती और ढैय्या शुरू हो रही है, उन्‍हें इस दिन ये उपाय जरूर कर लेने चाहिए। शनि के कुंभ में प्रवेश करते ही कर्क और वृश्चिक राशि पर ढैय्या शुरू हो जाएगी। वहीं मकर, कुंभ और मीन राशि पर साढ़े साती रहेगी।

Shanishchari Amavasya & Surya Grahan 2022

  • सूर्य ग्रहण-शनि अमावस्‍या के दिन शनि देव को तेल चढ़ाएं।
  • काले कपड़े में उड़द की दाल और काले तिल बांधकर शनि मंदिर में दान करें।
  • शनि देव के साथ-साथ भगवान शिव और संकटमोचक हनुमान की पूजा करें। इससे शनि दोषों से राहत मिलेगी.
  • पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं।
  • ग्रहण के बाद स्‍नान-दान अवश्‍य करें।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

ये भी पढ़े : इंडिया न्यूज़ के Ayodhya Adhiveshan Ram Rajya 2022 में बोले उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री दानिश आजाद अंसारी, कहा- विपक्ष का भ्रमजाल हम तोड़ने में हम सफल रहे

ये भी पढ़े : Mata Vaishno Devi: श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड में निकली भर्ती

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular