Friday, October 22, 2021
HomeनेशनलEncounter In Jammu And Kashmir जम्मू-कश्मीर में मुठभेड़, सैनिकों की मौत का...

Encounter In Jammu And Kashmir जम्मू-कश्मीर में मुठभेड़, सैनिकों की मौत का पांच गुना बदला लें: शिवसेना

Encounter In Jammu And Kashmir Avenge five times the death of soldiers Shiv Sena

इंडिया न्यूज, जम्मू :
जम्मू-कश्मीर में हुई मुठभेड़ में सेना के पांच जवानों के शहीद होने पर शिवसेना ने तल्ख तेवर दिखाए हैं। शिवसेना ने कहा कि आतंकवादियों के साथ आमने-सामने की लड़ाई में सैनिकों की मौत का पांच गुना बदला लिया जाना चाहिए। शिवसेना के मुखपत्र के संपादकीय में दावा किया कि जम्मू-कश्मीर को दिए विशेष अधिकारों को छीनने वाले अनुच्छेद 370 के विशेष प्रावधानों को रद्द करने के बाद से पाकिस्तान के हमदर्दों का हौसला बढ़ा है। इसमें कहा गया है कि आतंकवादी ऐसा माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं, जहां दूसरे धर्म के लोग घाटी में प्रवेश नहीं कर सकें।

स्थिति 1990 की तो नहीं: शिवसेना (Encounter In Jammu And Kashmir)

हाल के हफ्तों में आतंकवादी हमलों में तेजी आई है जिसमें एक प्रमुख कश्मीरी पंडित व्यवसायी और एक स्कूल शिक्षक सहित कई नागरिक मारे गए। इन हत्याओं का जिक्र करते हुए शिवसेना ने कहा कि इस तरह की हिंसक घटनाएं इस बात का एहसास कराती हैं कि क्या 1990 के दशक की तरह स्थिति बन रही है जब हजारों कश्मीरी पंडितों को घाटी छोड़ने के लिए मजबूर किया गया था। पार्टी ने अपने संपादकीय में कहा कि जब तक पांच सैनिकों को मारने वाले आतंकवादियों को कुचला नहीं जाता, तब तक भारतीय मन को शांति नहीं मिलेगी। इससे पहले कि सुरनकोट मुठभेड़ में शहीद हुए पांच सैनिकों का खून सूख जाए, इस मौत का पांच गुना बदला लिया जाना चाहिए।

Also Read : Coal Crisis Continues : कई गुना बढ़े कोयले का दाम, जानिए क्यों भारत-चीन में आया संकट

दो आतंकवादी भी मारे गए थे (Encounter In Jammu And Kashmir)

अलग-अलग तीन मुठभेड़ों में एक जेसीओ समेत सेना के पांच जवान और दो आतंकवादी मारे गए। सीमावर्ती जिले पुंछ के सुरनकोट इलाके में डीकेजी के पास एक गांव में आतंकवादियों द्वारा की गई गोलीबारी में सैनिकों की जान चली गई थी, जब सेना और पुलिस ने आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में खुफिया सूचना के बाद एक संयुक्त अभियान शुरू किया था।

Also Read : दिल्ली में बड़े आतंकी हमले की कोशिश नाकाम

प्रदर्शन, इमरान का पुतला आग के हवाले (Encounter In Jammu And Kashmir)

सेना के पांच जवानों के शहीद होने के बाद सोमवार को शिवसेना और डोगरा फ्रंट के कार्यकतार्ओं ने पाकिस्तान विरोधी प्रदर्शन किया और जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को समर्थन देने और उसे बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला भी फूंका।

Also Read : बच्चों के लिए वैक्सीन को मंजूरी, दो से 18 साल के बच्चे भी सुरक्षित

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE