Thursday, October 21, 2021
Homeचंडीगढ़Haryana CM Khattar meets Amit Shah: गृहमंत्री अमित शाह से सीएम मनोहरलाल...

Haryana CM Khattar meets Amit Shah: गृहमंत्री अमित शाह से सीएम मनोहरलाल ने की मुलाकात, केजरीवाल पर साधा निशाना

इंडिया न्यूज, चंडीगढ़:
Haryana CM Khattar meets Amit Shah: तीन कृषि अधिनियमों का विभिन्न किसान संगठनों द्वारा विरोध किए जाने के परिणामस्वरूप काफी लंबे समय से हरियाणा में दिल्ली के साथ लगते सिंघु बॉर्डर व टिकरी बॉर्डर पर राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध हुए हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग अवरूद्ध होने के परिणामस्वरूप आम जनता विशेषकर सिंघु बॉर्डर व टिकरी बॉर्डर के निकटवर्ती औद्योगिक क्षेत्र व ग्रामीण क्षेत्र के लिए परेशानी बनी हुई है।

Haryana CM Khattar meets Amit Shah Demand to open blocked National Highways

निकटवर्ती क्षेत्रों के निवासियों द्वारा अवरूद्ध हुए राजमार्गों को खुलवाने के लिए लगातार मांग भी की जा रही है। अवरूद्ध हुए राष्ट्रीय राजमार्गों को खुलवाने के संदर्भ में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से उनके आवास पर मुलाकात (Haryana CM Khattar meets Amit Shah) की। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने अवरूद्ध हुए राष्ट्रीय राजमार्गों को खुलवाने के संदर्भ में केंद्रीय गृह मंत्री के साथ विचार-विमर्श किया।

हरियाणा में अन्य स्थानों भी पर किसानों द्वारा किए जा रहे धरना-प्रदर्शनों की स्थिति के संदर्भ में भी केंद्रीय गृह मंत्री को अवगत करवाया गया। केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात के उपरांत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि बातचीत जारी है और 20 अक्तूबर को हरियाणा सरकार सर्वोच्च न्यायालय में अपना पक्ष रखेगी। किसान नेताओं को भी पार्टी बनाया गया है।

इससे पहले किसान संगठनों के साथ कोई सहमति बनती है तो सही है। उसके उपरांत सर्वोच्च न्यायालय के आदेशानुसार राजमार्गों को खुलवाया जाएगा। किसानों से उनके विरोध प्रदर्शन व आंदोलन के दौरान शांति बनाए रखने की सदैव अपील है और केंद्रीय गृह मंत्री (Haryana CM Khattar meets Amit Shah) ने भी यही अपेक्षा की है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा हरियाणा में पराली जलाए जाने के मीडिया द्वारा किए गए प्रश्न पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि यह सब निराधार है और हरियाणा में धान उत्पादक किसानों को 1000 रुपए प्रति एकड़ प्रोत्साहन के रूप में प्रदान किए जा रहे हैं। अब कंपनियां द्वारा किसानों से पराली खरीदी जा रही है और प्रति एकड़ किसानों की आमदन में भी वृद्धि हुई है।

Read More : आतंकिया ने कुलगाम में पुलिस पार्टी पर किया हमला, 2 घायल

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE