Thursday, January 27, 2022
HomeHealthBest Yoga For Weight Loss : वजन घटाने के लिए सर्वश्रेष्ठ योग

Best Yoga For Weight Loss : वजन घटाने के लिए सर्वश्रेष्ठ योग

Best Yoga For Weight Loss

Best Yoga For Weight Loss : योग नेचुरल (natural) तरीके से वजन घटाने के लिए सबसे बेहतर विकल्पों में से एक है। अगर आप तेजी से वजन कम करना चाहते हैं तो वजन कम करने के लिए योग से बेस्ट(Best) और कुछ नहीं हो सकता है। योगा के साथ ही वजन कम करने के लिए भोजन में भी बदलाव की जरूरत होती है। तेजी से मोटापा कम करने और पेट पर जमी चर्बी को घटाने के लिए आपको अपने संतुलित आहार लेने की जरूरी होती है। मोटापा कम करने के लिए योग एक नेचुरल (natural) तरीका हो सकता है।

आप योगासनों की मदद से भी वजन घटा सकते हैं। साथ ही योग पेट पर जमी वसा को कम करने में भी मददगार हो सकता है। तेजी से बेली फैट कैसे कम करने में भी योग आपके लिए किसी रामबाण से कम नहीं है। मोटापा कई शारीरिक समस्याओं का कारण बन सकता है, इसलिए इसे नियंत्रित करना जरूरी हो जाता है। वजन को कम करने के लिए योगासन बता रहे हैं, जो आपकी मदद कर सकते हैं। तो आईए जानते है कि वजन घटाने के लिए आप कोन-कोन से आसन कर सकते है।

वीर भद्रासन Best Yoga For Weight Loss

इस आसन को करने के लिए अपने एक पैर को पीछे की ओर खींचकर, दूसरे पैर को आगे कूदने की मुद्रा में बना लें, जिसमें घुटने 90 डिग्री मुद्रा में हो और हाथों को जोड़कर सिर के ऊपर तक ले जाएं। वीरभद्रासन-2 के लिए आप इस मुद्रा को आगे ले जा सकते हैं, जिसमें अपने हाथ छाती के सामने ले जाएं और खींचे हुए पैरों को सीधा कर लें, वहीं दूसरे पैर को अभी भी 90 डिग्री पर ही रखें और अपने दोनों हाथों को खींचकर बाहर की तरफ फैला लें।

यह योद्धा मुद्रा आपके पैर, जांघ, पीठ और हाथ पर काम करती है। यही नहीं, यह ब्लड सकुर्लेशन सही करने में भी मदद करती है। साधारण दूध वाली चाय से भी घटा सकते हैं वजन, कुछ दिनों में ही दिखने लगेगा असर, जानें पीने का सही समय और बनाने का तरीका

सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार का अर्थ है-ह्यसूरज का अभिवादनह्ण या ह्यवंदन करनाह्ण. इसमें 12 योग मुद्राओं का मिश्रण होता है, जो कि शरीर के विभिन्न भागों को केंद्रित करता है। इसकी यही खासियत इसे पूरे शरीर के लिए फायदेमंद बनाती है। कई एक्सपर्ट्स मानते हैं कि शरीर को चुस्त रखने के लिए सूर्य नमस्कार एक बढ़िया तरीका है, क्योंकि यह शरीर के लगभग हर संभव अंग की कसरत करने में मदद कर सकता है।

भुजंग आसन

सबसे पहले अपने पेट के बल से लेट जाएं. अब अपने हथेलियों को अपने कंधे की सीध में ले कर आएं. इस दौरान अपने दोनों पांवों के बीच की दूरी को कम करें साथ ही पांव को सीधा तथा तना हुआ रखें. अब सांस भरते हुए बॉडी के अगले हिस्से को नाभि तक उठाएं।

ताड़ासन

पेट की चर्बी कम करने के योगासन के रूप में ताड़ासन का अभ्यास करना एक बेहतरीन शुरूआत हो सकती है। इसे करने से पूरे शरीर में खिंचाव महसूस हो सकता है। साथ ही रक्त का प्रवाह बेहतर हो सकता है। अन्य योगासनों के साथ ताड़ासन का अभ्यास पेट की अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, मोटापा कम करने के अलावा इसे लंबाई बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है।

त्रिकोणासन

पेट कम करने वाले योगासन में इसे चुना जा सकता है। इस आसन को करते समय शरीर त्रिकोण जैसी मुद्रा में आ जाता है, इसलिए इसी त्रिकोणासन कहते हैं। त्रिकोण का अर्थ होता है तीन कोण वाला और आसन का अर्थ मुद्रा से होता है। कई योग पर हुए रिसर्च में पाया गया कि अन्य योगासन के साथ ही त्रिकोणासन का अभ्यास पेट की चर्बी को कम करने में मददगार हो सकता है। इसके साथ ही यह आसन कमर के किनारे की चर्बी को कम करने में भी मदद कर सकता है।

पार्श्वकोणासन

पार्श्व का मतलब बगल होता है। यह योग करते समय शरीर पार्श्व की मुद्रा बनाता है, इसलिए यह पार्श्वकोणासन कहलाता है। इसे नियमित रूप से करने से कई शारीरिक समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। पार्श्वकोणासन का अभ्यास कूल्हे और जांघ की चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है। इससे हम यह मान सकते हैं कि इसे करने से कुछ हद तक पेट की चर्बी भी कम की जा सकती है। हालांकि, यह पेट की चर्बी को कम करने में कितना कारगर होगा, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

पादहस्तासन

यह दो शब्दों के योग पद यानी पैर और हस्त यानी हाथों के योग से बना है। यह योग करते समय हाथों को जमीन पर पैरों के साथ सटा कर रखा जाता है, जिस कारण इसे पादहस्तासन कहा जाता है। पादहस्तासन का नियमित अभ्यास पेट की अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है। उन आसनों को शामिल किया गया है, जो पेट के मोटापे को कम करने में मदद कर सकते हैं। इन योगासनों में पादहस्तासन का नाम भी शामिल है। इसलिए, पेट की चर्बी करने के लिए इस आसन का अभ्यास किया जा सकता है।

अर्धचक्रासन

पेट कम करने के योगासन की श्रेणी में यह भी खड़े होकर किया जाने वाला योग है। संस्कृत में अर्ध का मतलब होता है आधा और चक्र का मतलब पहिये से होता है। यह आसन करते हुए शरीर की मुद्रा आधे पहिये जैसी नजर आती है, इसलिए यह अर्धचक्रासन कहलाता है। पेट की चर्बी कम करने के योगासन के रूप में इसे कर सकते हैं। इसे करने से पेट पर दवाब बनता है और इससे पेट की चर्बी धीरे-धीरे कम हो सकती है। इसलिए, पेट कम करने के आसन में इसे शामिल किया जा सकता है।

Read more : Health Tips In Hindi वात, पित्त, कफ के बिगड़ने से होते कई रोग

Read more : Health Tips In Hindi जानिये फायदेमंद भोजन के बारे में, जो कर सकते हैं नुकसान भी

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE