Monday, December 6, 2021
HomeHealthHow to get rid of Betel Leaf Diseases पान के पत्ते से...

How to get rid of Betel Leaf Diseases पान के पत्ते से कैसे दूर होगी बीमारियां

How to get rid of Betel Leaf Diseases : लोग अक्सर पान के पत्ते की पूजा या फिर खाने के लिए उपयोग करते हैं। पान के पत्ते को काफी स्वास्थ्यवर्धक बताया गया है। इनसे होने वाले लाभ हमें कई तरह की परेशानियों से बचाते है। अगर पान के पत्ते के फायदे के बारे में बारे में बात करें तो कई धार्मिक प्रयोजनों में भी इनका इस्तेमाल किया जाता हैं। कुछ लोगों को रात का खाना खाने के बाद पान चबाना पसंद होता है।

वहीं पान के सेवन से शादीशुदा पुरुषों को काफी कमाल के फायदे मिलते हैं। लेकिन पान के फायदे और भी बहुत होते हैं। पान के पत्ते खाने में थोड़ी कसैली होती है लेकिन इसे खाने वाले इसमें सुपारी, कत्था, चूना और दूसरी कई चीजें मिलाकर खाते हैं। आमतौर पर लोग इसे गलत आदत मानते हैं। लेकिन हर चीज की तरह इसके भी कुछ फायदे भी हैं। जानते हैं पान के पत्ते खाने के फायदे।

READ ALSO : How Fenugreek Water will Cure Diseases मेथी का पानी कैसे बीमारियों को दूर करेगा

एंटिसेप्टिक How to get rid of Betel Leaf Diseases 

क्या आप जानते है कि पान का पत्ता सिर्फ खाने में ही नहीं बल्कि हम इसको एंटिसेप्टिक की तरह इस्तेमाल कर सकते है। इसको आप छोटी मोटी खरोंच या चोट में भी इस्तेमाल कर सकते है। चोट और खरोंच की जगह इसको बांधने से आपको इससे आराम मिल जाएगा।

नकसीर फूटना How to get rid of Betel Leaf Diseases 

अगर आपकी नकसीर फूटती है तो आपको बिल्कुल भी नहीं घबराना है। इसके लिए आपको पान के पत्ते को सूंघना है और ऐसा करने से आपकी नकसीर बहनी बंद हो जाएगी।

आंखे लाल होना How to get rid of Betel Leaf Diseases 

अगर आप किसी कारणवश रात को जागते है या आपको कोई थकान होती है। इस कारण कभी कभी आपकी आंखे एकदम सुर्ख लाल हो जाती है। इसके लिए आपको पान के पत्तों को पानी में उबालकर उसी पानी की छीटें आंखो पर मारनी है। ऐसा करने से आपको आराम मिल जाएगा।

आवाज मोटी होना How to get rid of Betel Leaf Diseases 

आपको बता दें कि अगर आपकी आवाज मोटी होती जा रही है तो आपको इसके लिए पान का सेवन करना चाहिए। इससे आपकी आवाज पतली होगी। पान का पानी पीने से आपके गले की समस्याओं का समाधान हो जाता है।

मसूड़ों की समस्या How to get rid of Betel Leaf Diseases 

आपने अक्सर देखा होगा कि कुछ लोगो के मसूड़ों से खून आता है। अगर आपको ऐसी समस्या है तो इसके लिए आपको पान के साथ उबाले गए पानी के साथ कुल्ला करने से राहत मिल जाती है। आप गरारा भी कर सकते है।

कफ How to get rid of Betel Leaf Diseases 

अगर आपको कफ की समस्या है तो आपको पान के पत्तो और पानी को चीनी मिलाकर उबालना है औ? बाद में इसका सेवन करना है। इससे आपकी कफ की समस्या खत्म हो जाती है।

शरीर की बदबू How to get rid of Betel Leaf Diseases 

आपके शरीर से अगर औरों के मुकाबले ज्यादा बदबू आती है तो आपको पान के दो पत्तो को उबालकर दोपहर मे इस पानी का सेवन करना है। इससे आपकी ये समस्या खत्म हो जाएगी।

खुजली How to get rid of Betel Leaf Diseases 

अगर आपको खुजली है तो आपको आपको पान के पत्तों के से उबले पानी से नहाने में आराम मिल सकता है

स्तनों में सूजन How to get rid of Betel Leaf Diseases 

अक्सर देखा जाता है कि जो महिलाएं स्तनपान कराती है उसके स्तनों मे सूजन आ जाती है। ऐसे में आपको नारियल का तेल पान में लगाकर हल्का गर्म करेक स्तनों के पास रखने से आराम मिलता है।

सर्दी-जुकाम से राहत मिलती है How to get rid of Betel Leaf Diseases 

पान के पत्तों के इस्तेमाल से सर्दी-जुकाम से राहत मिलती है। इसके लिए आप पान के पत्तों से डंठल को अलग कर लें। फिर इन डंठलों को पत्थर पर घिस लें और इसमें थोड़ा सा शहद मिला कर इसका सेवन करें। इस से सर्दी-जुकाम के साथ कफ में भी आराम मिलता है।

ब्रेस्ट स्वेलिंग को दूर करता है How to get rid of Betel Leaf Diseases 

कई प्रसूतायें किसी भी वजह से अपने नवजात शिशु को दूध नहीं पिला पाती हैं, इस वजह से उनके ब्रेस्ट में काफी स्वेलिंग आ जाती है। इस स्वेलिंग को दूर करने के लिए पान के पत्तों को हल्का गर्म करके उनके ब्रेस्ट पर बांध सकते हैं। इसे बांधने से स्वेलिंग कम होती है।

सिरदर्द How to get rid of Betel Leaf Diseases 

पान के पत्तों में एनाल्जेसिक गुण पाए जाते हैं। यदि आप कहीं बाहर से आ रहे है और खूब सिरदर्द हो रहा है तो आप कुछ देर के लिए लेट जाएं और पान के पत्तों को गीला करके अपने माथे पर रख लें। इससे आपको जल्द ही राहत मिलेगी। उसके अलावा यदि अधिकतर आपको सिरदर्द की समस्या होती रहती है तो पान के तेल को सिर पर लगाएं।

ह्रदय रोग How to get rid of Betel Leaf Diseases 

आयुर्वेद में ह्रदय रोग में पान का उपयोग भी बेहद लाभकारी बताया है। पान का शर्बत पीने से ह्रदय को ताकत मिलती है। बार-बार ह्रदय रोग नहीं होता है, दिल के दौरे के आने की संभावना भी बेहद हद तक कम होती है यदि आप नियमित रूप से पान का सेवन करते हैं। बना हुआ पान खाने की बजाय दिल के मरीजों को सिर्फ पान का पत्ता खाना चाहिए। मीठा पान खाने से उन्हें नुकसान पहुंच सकता है।

How to get rid of Betel Leaf Diseases  

READ ALSO : Benefits of Applying Desi Ghee on the Navel नाभि पर देसी घी लगाने के फायदे

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE