Wednesday, May 25, 2022
HomeHealthजानें, ज्यादा पसीना निकलना कहीं बीमारियों का संकेत तो नहीं

जानें, ज्यादा पसीना निकलना कहीं बीमारियों का संकेत तो नहीं

बिना किसी काम और एक्सर्साइज के सामान्य से (Excessive Sweating is Harmful) अधिक पसीना आना हृदय की समस्याओं की पूर्व चेतावनी के संकेत हो सकते हैं।

इंडिया न्यूज:
गर्मियों में वैसे तो शरीर से पसीना निकलना एक सामान्य बात है लेकिन अगर यह जरूरत से ज्यादा (हाथ या पैर) निकलने लगे तो सतर्क जो जाएं। क्योंकि यह शरीर के अंदर होने वाली किसी समस्या या बड़ी बीमारी का संकेत भी हो सकता है। तो आइए आज के लेख में जानते हैं क्या पसीने की समस्या कोई बीमारी है। और इसका उपाय क्या है।

क्यों ज्यादा पसीना आता है

ज्यादा पसीना निकलना कहीं बीमारियों का संकेत तो नहीं

  • अगर आपकी हथेलियों पर हमेशा पसीना आता है तो यह तापमान में बढ़ौतरी होने की वजह से हो सकता है। कभी-कभी हाथ में ज्यादा पसीना आना आंतरिक बीमारी का संकेत भी हो सकता है। जैसे-डायबिटीज, मेनोपॉज/हॉट फ्लैशेस (चेहरे, गर्दन और सीने पर पसीना आना), ब्लड शुगर का कम होना, थायरॉइड का बहुत ज्यादा एक्टिव होना, हृदय रोग, नर्वस सिस्टम में कोई समस्या या किसी इंफेक्शन का होना आदि।
  • बिना किसी काम और एक्सर्साइज के सामान्य से अधिक पसीना आना हृदय की समस्याओं की पूर्व चेतावनी के संकेत हो सकते हैं। दरअसल अवरुद्ध धमनियों के माध्यम से खून को दिल तक पंप करने के लिए ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। इससे अतिरिक्त तनाव में शरीर के तापमान को सामान्य बनाए रखने के लिए अधिक पसीना आता है।

तनाव से भी आता है पसीना

जानें, ज्यादा पसीना निकलना कहीं बीमारियों का संकेत तो नहीं

पसीना आने की प्रक्रिया का संबंध केवल बाहरी नहीं आंतरिक कारकों से भी होता है। चिंता, डर और तनाव आदि में भी त्वचा से पसीना निकलता है। यौवनावस्था शुरू होने पर शरीर में होने वाले हॉर्मोनल बदलावों के कारण शरीर में करीब 30 लाख पसीने वाली ग्रंथियां सक्रिय हो जाती हैं। ऐसा सभी के साथ होता है। लेकिन हाइपरहाइड्रोसिस से पीड़ित व्यक्तियों को सामान्य लोगों से अधिक पसीना आता है।

इंफेक्शन भी एक वजह

कुछ खास तरह के बैक्टीरिया के इंफेक्शन की वजह से भी ज्यादा पसीना आ सकता है। इसमें हार्ट वॉल्व में सूजन, हड्डियों से जुड़े इंफेक्शन के साथ ही एचआईवी इंफेक्शन भी हो सकता है। जरूरी है कि आप डॉक्टर से सलाह लें और उनके बताए टेस्ट जरूर करवाएं, ताकि सही कारण पता चल सके।

पसीने को कम करने के लिए उपाए क्या

जानें, ज्यादा पसीना निकलना कहीं बीमारियों का संकेत तो नहीं

  • हाथों के अलावा शरीर के विभिन्न हिस्सों में पसीने को कम करने के लिए एंटीपर्सपिरेंट काफी असरदार होते हैं। अगर पसीने की समस्या को रोकना चाहते हैं तो किसी रेगुलर-स्ट्रेंथ वाले एंटीपर्सपिरेंट से शुरूआत करें। अगर परिणाम नहीं मिलता है तो क्लिनिकल-स्ट्रेंथ एंटीपर्सपिरेंट को चुनें।
  • अगर हाइपरहाइड्रोसिस (अत्यधिक पसीना आने की समस्या) है, तो आॅर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल करें। यह आपके शरीर में पीएच लेवल को संतुलित करके पसीने वाली हथेलियों को सूखा रख सकता है। सेब के सिरके से हथेलियों को पोंछ सकते हैं। अगर इसका प्रभाव बढ़ाना चाहते हैं तो इसे रातभर हाथेलियों में लगा रहने दें।
  • पसीने को कम करने का एक और घरेलू उपाय बेकिंग सोडा है। बेकिंग सोडा का उपयोग करके पसीने की समस्या कम की जा सकती है। इसके लिए दो चम्मच बेकिंग सोडे में पानी मिलाकर एक पेस्ट बना लें। फिर पेस्ट को अपने हाथों पैरों पर लगभग पांच मिनट तक रगड़ें और फिर हाथ धो लें। तेज पत्ते को भोजन में शामिल करने या इसकी चाय के सेवन से हाथों के पसीने से राहत मिल सकती है।

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में 20000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया उद्घाटन

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी ने पंचायतों को बताया भारतीय लोकतंत्र का स्तंभ

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular