Thursday, January 27, 2022
HomeHealthSymptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis) सिद्म कुष्ठ (सोरायसिस)...

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis) सिद्म कुष्ठ (सोरायसिस) के लक्षण और उपचार के तरीके

नेचुरोपैथ कौशल

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis) आयुर्वेद मे कुल 18 प्रकार के कुष्ठ रोगो का वर्णन किया गया है जिसमे 11 लघु कुष्ठ और 7 रोगो को महाकुष्ठ बताया है।

सोरायसीस महाकुष्ठ रोग 

ज्यादातर यह रोग हाथ-पैर और सिर पर ही होता है। नाखून, कान के पीछे, गरदन के उपर या पीछे के भाग पर होता है। उसका आकार निश्चित नही होता। लाल रंग के चकत्ते होते है। हमेशा चमडी उखडती रहती है। चमडी के अंदर से पानी निकलता रहता है। खुजली बहुत होती है। धीरे धीरे चमडी काली पडने लगती है और निस्तेज होने लगती है।

अगर सिर पर सोरायसीस हो तो बाल झड़ते है। सफेद होने लगते है। रंग बदलना शुरू हो जाता है। कपाल तक फैल जाता है। अगर हाथ-पैर, नाखुन मे हो तो नाखून टूटते है। रंग बदलता है चमडी का। नाखून मे चीरे पडते है। पीले रंग के हो जाते है नाखून। सोरायसीस महाकुष्ठ रोग है जो व्यक्ति को शारीरिक तथा मानसिक तौर पर भी कमजोर बना देता है।

परहेज

सोरायसीस मे क्या ना खाये

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)

इमली, निंबू, आलू, बैगन, टमाटर, चाय, काफी धूम्रपान, भिन्डी, प्याज, लहसुन, शराब, मैदे से बनी चीजे, मसालेदार खाना, दूध, दही, इडली, डोसा, बेकरी की चीजे, सफेद नमक वगैरह।

क्या खाएं

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)
Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)

हल्दी, आंवला, खरबूजा, सेव, लौकी, गाय का दूध, सहजन, मोसंबी, हरी सब्जी, पपीता, चीकू, अमरूद वगैरह।

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)
Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)

रसाहार से उपचार

खरबुजा एवं सेव का रस बहुत ही फायदेमंद है सोरायसीस मे। दिन मे सेव अथवा खरबूजा का रस पीना चाहिये।
2 चम्मच तुलसी का रस पीये या तुलसी अर्क सुबह शाम 5-5 बून्द लें। 1 कप नीम के पत्तो का रस रोज सुबह लेना चाहिये या नीम के कैप्सूल सुबह शाम लें। आंवला रस 2 कप मे 1 चम्मच अदरक का रस + 1 चम्मच हलदी का रस + 5 बून्द तुलसी अर्क मिलाकर पीना चाहिये।

गंधक से ईलाज (Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis))

4 पत्ते तुलसी के + नीम के थोडे पत्ते लेकर, 2 चम्मच गंधक को 1 बाल्टी पानी मे मिलाकर उबालें, जब पानी ठंडा हो जाये तब उससे स्नान करे। शुद्ध गंधकवटी सुबह शाम 2-2 गोली गुनगुने पानी के साथ ले, यह एंटीओक्सीडेंट का काम करती है।

गौमूत्र से ईलाज

गौमूत्र रोज सुबह लें एवम् लगाने के लिये भी इस्तेमाल करें।

उपचार 

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)
Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)

तुलसी 4 पत्ते + आंवला चूर्ण 1 चम्मच को 2 गिलास पानी मे डालकर उबाले। जब आधा गिलास पानी बचे तब छानकर पियें। चिरायता 2 चमच लेकर 2 गिलास पानी मे उबाले जब आधा ग्लास बचे तब छानकर पीऐ।

Symptoms and Methods of Treatment of Sidma Leprosy (Psoriasis)

Read More : Weather Update देश में कई जगह भारी बारिश का अनुमान, उत्तर भारत में बढ़ेगी ठंड

Read More :Weather Update भारी बारिश से अब बेंगलुरु पानी-पानी

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE