Friday, December 3, 2021
HomeHealth TipsBenefits of Cinnamon and Clove Tea दालचीनी और लौंग की चाय भी...

Benefits of Cinnamon and Clove Tea दालचीनी और लौंग की चाय भी बचा सकती है वायु प्रदूषण से

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली :

Benefits of Cinnamon and Clove Tea : देश में इन दिनों वायु प्रदूषण बहुत बढ़ गया है। इस कारण वायु की गुणवत्ता तो खराब हो ही रही है। आम आदमी का स्वास्थ्य भी दिन-ब-दिन बिगड़ता नजर आ रहा है। हालांकि केजरीवाल सरकार ने हाल ही में सीएनजी बसें चलाकर इस खतरे को कम करने की कोशिश जरूर की है, लेकिन प्रदूषण की रफ्तार उससे अधिक है। आईये आज बात करते हैं इससे बचने के चंद उपायों की। ये उपाय सस्ते होने के साथ-साथ हर घर में उपलब्ध हैं।

सबसे पहले अदरक की चाय (Benefits of Cinnamon and Clove Tea)

अदरक वाली चाय में मौजूद एंटी इनफ्लेमटरी तत्व रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में कारगर हैं। साथ ही इसमें पोटेशियम, मैग्नीशियम, जिंक और बीटा कैरोटीन जैसे औषधीय तत्व भी हैं। एक स्टडी के मुताबिक, अदरक शरीर में कैंसर सेल्स का भी खात्मा कर सकती है। फेफड़ों की सफाई के लिए नियमित रूप से अदरक वाली चाय पीएं।(Benefits of Cinnamon and Clove Tea)

लौंग की चाय

लौंग हमेशा से ही खांसी जुकाम का रामबाण इलाज रहा है। सर्दियों में लोग अपनी चाय में लौंग जरूर मिलाकर पीते हैं। क्योंकि ये सिर्फ गले को ही साफ नहीं करता है हल्कि फेफड़ों को डिटॉक्स करता है। इससे आप प्रदूषण के असर को कम कर सकते हैं। इसके अलावा लौंग एंटी-आक्सीडेंट और एंटीहिस्टामाइन से भरपूर होती हैं जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को दूर करने में बहुत मददगार होती हैं।

अदरक की चाय- अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो खांसी और कंजेशन को कम कर सकते हैं। इसके अलावा ये गले की खराश और फेफड़ों की सूजन को भी कम करने में मदद करती है। दरअसल, अदरक में जिंजरोल और अन्य यौगिक होते हैं जो वायुमार्ग में सूजन को कम कर सकते हैं और इसके कॉन्ट्रेक्शन को रोक सकते हैं। (Benefits of Cinnamon and Clove Tea )

स्टीम

फेफड़ों की सफाई के लिए स्टीम थेरेपी सबसे अच्छा और आसान उपाय है। पानी की वाष्प न सिर्फ बंद पड़े एयर पैसेज को खोलती है, बल्कि फेफड़ों से बलगम भी निकालती है। सर्दियों के मौसम में तो ये और भी ज्यादा फायदेमंद होती है। स्टीम बेहद कम समय में सांस की तकलीफ से राहत दिला सकती है। (Benefits of Cinnamon and Clove Tea )

सेब जूस और आंवला का सेवन

इस ड्रिंक में क्वेरसेटिन और केलिन फ्लेवोनॉयड्स पाए जाते हैं, जो फेफड़ें संबंधी बीमारियों के प्रभाव को कम करते हैं। साथ ही गले में होने वाली घरघराहट दूर होती है। वहीं, आंवला में विटामिन-सी पाया जाता है, जिससे इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। साथ ही शरीर में मौजूद टॉक्सिन बाहर निकल जाता है। इसके लिए रोजाना सुबह में सेब जूस और आंवला का सेवन करें। (Benefits of Cinnamon and Clove Tea )

READ ALSO : Make the House Beautiful at Low Cost कम खर्चे में घर को बनाएं सुंदर

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Sameer Sainihttp://indianews.in
Sub Editor @indianews | Quick learner with “can do” attitude | Have good organizing and management skills
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE