Wednesday, January 26, 2022
HomeHealth TipsNatural Remedies For Tonsils टॉन्सिल के लक्षण, कारण और कुदरती उपचार

Natural Remedies For Tonsils टॉन्सिल के लक्षण, कारण और कुदरती उपचार

नेचुरोपैथ कौशल
Natural Remedies For Tonsils मौसम में बदलाव के चलते अक्सर लोगों को गले की खराश या गले में दर्द की शिकायत होने लगती है। यह सब गले की इंफेक्शन की वजह से होता है। इंफेक्शन बढ़ जाने पर गले में टॉन्सिल्स नामक बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। इसमें गले में सूजन के साथ ही असहनीय दर्द होता है। यही नहीं खाने और पानी पीने भी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।

टोन्सिल के लक्षण (Natural Remedies For Tonsils)

• कान के निचले भाग में भी दर्द रहता है।
• शरीर में कमजोरी लगने लगती है ।
• गले में खराश महसूस होना ।
• दर्द के कारण बुखार भी रहता है ।
• कंठ में तेज दर्द रहना ।

टोन्सिल होने के कारण (Natural Remedies For Tonsils)

• सर्दी जुकाम के कारण भी टोन्सिल होने लगता है ।
• ठण्ड मौसम के कारण ।
• ice cream खाने या ठंडी शीतल पेय को पीने से ।
• ठंडी चीज के सेवन करने से ।
• किसी तरह के virus या bacteria के कारण हमारे गले में संक्रमण होने से ।

टॉन्सिलाइटिस के उपचार (Natural Remedies For Tonsils)

• गर्म पानी में एक चम्मच नमक डालकर गरारे करने से गले की सूजन में काफी लाभ होता है।
• दालचीनी को पीस कर चूर्ण बना लें। इसमें से चुटकी भर चूर्ण लेकर शहद में मिलाकर प्रितिदिन 3 बार चाटने से टॉन्सिल के रोग में सेवन करने से लाभ होता है।
• इसी प्रकार तुलसी की मंजरी के चूर्ण का उपयोग भी किया जा सकता है।
• एक गिलास पानी में एक चम्मच अजवायन डालकर उबाल लें। अब इस पानी को ठंडा करके उससे गरारे और कुल्ला करने से टॉन्सिल में आराम मिलता है।

(Natural Remedies For Tonsils)

• दो चुटकी पिसी हुई हल्दी, आधी चुटकी पिसी हुई कालीमिर्च और एक चम्मच अदरक के रस को मिलाकर आग पर गर्म कर लें और फिर शहद में मिलाकर रात को सोते समय लेने से दो दिन में ही टॉन्सिल की सूजन दूर हो जाती है ।
• आप चाहे तो शहद को ऐसे भी खा सकते हैं या फिर उसे काली मिर्च पाउडर के साथ मिला कर चाट सकते हैं। इससे गले में खुजलाहट नहीं होगी और सूजन भी कम होगी।

(Natural Remedies For Tonsils)

Read Also: How To Remove Dark Lips अगर आप अपने होठों के फटने या कालेपन से परेशान हैं तो न लें टेंशन

Read Also: Home Remedies For Diabetes डायबिटीज के लिए सरल देशी नुस्खे

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Mukta
Sub-Editor at India News, 7 years work experience in punjab kesari as a sub editor, I love my work and like to work honestly
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE