Tuesday, November 30, 2021
HomeIndia NewsAgriculture Laws Repealed : कानून वापस होने के बाद विपक्षी दलों के...

Agriculture Laws Repealed : कानून वापस होने के बाद विपक्षी दलों के खेमे में जश्न का माहौल, टूट गया केंद्र का अभिमान

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली :

Agriculture Laws Repealed : देशभर के लोग आज प्रकाश पर्व मना रहे हैं। ऐसे में देशवासियों और किसानों को इस बात की जरा सी भी भनक नहीं की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र के नाम संबोधन में विगत कई महीनों से संघर्षहित किसानों से बड़ी राहत प्रदान कर देंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के नाम संबोधन में संसद पारित किसान हितैषी तीनों नए कृषि कानूनों वापस लेने का बड़ा ऐलान कर दिया। प्रधानमंत्री मोदी यहीं नहीं रोके उन्होंने दिल्ली के सटे सीमाओं पर नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन कर किसानों से देश के सामने माफी भी मांगी। (Agriculture Laws Repealed)

इस अवसर पर मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार तीनों नए कृषि कानून किसानों के हितों और उनकी आय दुगानी हो इसको लेकर नेक नीयत के साथ लेकर आई थी,लेकिन यह हमारी गलती है कि हम नए कृषि कानूनों को किसानों को ठीक से समझा नहीं पाए। वही, तीन कृषि कानूनों के प्रधानमंत्री द्वारा वापस होने का घोषणा होते ही विपक्षीय दलों ने नेताओं ऐसे किसानों की जीत करार देते हुए तानाशाह सरकार का अभिमान टूटने जिससे वाक्यों का प्रयोग किया। सभी विपक्षीय दलों ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए अपने-अपने अंदाज में कई ट्वीट किये और उनके खेमे में जश्न का माहौल है।

अगर देश की सबसे पुरानी व कई वर्षों तक देश की सत्ता में शासन करने वाली पार्टी कांग्रेस की करें तो कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा कि टूट गया अभिमान। जीत गया मेरे देश का किसान।

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एंव केरल से वायनाड़ के सांसद राहुल गांधी ने कहा कि देश के अन्नदाता ने सत्याग्रह से अहंकार का सर झुका दिया। अन्याय के खिलाफ ये जीत मुबारक हो! जय हिंद, जय हिंद का किसान।

आम आदमी पार्टी (आप) ने भी वापस हुए तीनों नए कृषि कानून पर ट्वीट कर कहा कि यह किसानों के अभियान की बड़ी जीत है। मोदी सरकार ने आगामी राज्यों ने होने वाले चुनाव के चलते डर गई है। इसलिए तीनों काले कृषि कानूनों को वापस ले लिए हैं। पीएम मोदी को उन किसानों के परिवार से माफी मांगनी चाहिए जिन्होंने न्याय की लड़ाई में अपनी जान गंवाई है।

पूर्वांचल की विजय यात्रा से डरी मोदी सरकार वापस लिए कृषि कानून (Agriculture Laws Repealed)

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सपा की पूर्वांचल यात्रा को मिलते आपार जनसमर्थन को देखते केंद्र सरकार डर गई है। इसलिए उसने सांसद से पारित तीनों नए कृषि कानून को वापस ले लिए हैं। आगे यादव ने कहा कहा कि अमीरों की भाजपा ने भूमिअधिग्रहण व काले कानूनों से गरीबों-किसानों को ठगना चाहा। कील लगाई। बाल खींचते कार्टून बनाए। जीप चढ़ाई। अब भाजपा यह बताए कि सैंकड़ों किसानों की मौत के दोषियों को सजा कब मिलेगी। (Agriculture Laws Repealed)

संसद के आगामी सत्र पर एमएसपी पर कानून लाए सरकार

बहुजन समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावाती ने कहा कि यह तीनों नए कृषि कानून बहुत पहले ही निरस्त हो जाना चाहिेए था। हालांकि अभी भी किसानों की न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानून की मांग लंबित है। बसपा मांग करती है कि संसद के आगामी सत्र में केंद्र सरकार इस संबंध में कानून लाए। (Agriculture Laws Repealed)

Also Read : PM’s Big Gift to Farmers गुरु नानक जंयती पर किसानों को बड़ी सौगात

Connect With Us:-  Twitter Facebook
SHARE

Sameer Sainihttp://indianews.in
Sub Editor @indianews | Quick learner with “can do” attitude | Have good organizing and management skills
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE