Tuesday, May 24, 2022
HomeIndia Newsअगर आती है कोरोना की चौथी लहर, इन नियमों और सावधानी से...

अगर आती है कोरोना की चौथी लहर, इन नियमों और सावधानी से खुद को बचाएं

fourth covid wave possibility in India: देश की राजधानी दिल्ली और मुंबई में कोरोना के बढ़ते केसों को देखकर आशंका जताई जा रही है कि भारत में जल्द ही चौथी लहर आ सकती है। स्वास्थ्य विभाग अनुसार, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 2483 नए मामले मिले हैं।

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली: अभी थोड़े समय से कोरोना (COVID-19) के केस कम हो रहे थे व लोग थोड़ा सामान्य होने की कोशिश कर ही रहे थे, कि अचानक देश दुनिया में कोरोना की बढ़ती रफ्तार (कोरोना की चौथी लहर की आशंकाओं ने) COVID-19 FORTH WAVE लोगों की चिंता में डाल दिया है। वहीं स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि ओमिक्रॉन (Omicron) के नए वैरिएंट के उभरने की संभावनाएं बनी हुई हैं। अब सवाल ये उठता है कि कोरोना की चौथी लहर (fourth covid wave in India) व महामारी से निपटने के लिए तैयारी कैसे करनी चाहिए। क्या चौथी लहर के बीच लग सकती हैं पहले जैसी पाबंदियां।

क्या भारत में आ सकती है चौथी लहर?

दिल्ली में लगातार तीसरे दिन 1000 से ज्यादा कोरोना केस
दिल्ली में लगातार तीसरे दिन 1000 से ज्यादा कोरोना केस

fourth covid wave possibility in India: देश की राजधानी दिल्ली और मुंबई में कोरोना के बढ़ते केसों को देखकर आशंका जताई जा रही है कि भारत में जल्द ही चौथी लहर आ सकती है। स्वास्थ्य विभाग अनुसार, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 2483 नए मामले मिले हैं। देश में संक्रमण दर 0.55 फीसदी है और एक्टिव केस 15 हजार 636 हैं। इसे देखते हुए हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि भारत में कोरोना की चौथी लहर आने की संभावना है।

ये जरूर पढ़ें : तेज प्रताप यादव के इस्‍तीफे की पूरी कहानी, राबड़ी देवी ने फेसबुक पर क्‍यों साझा की फोटो

अगर कोरोना की चौथी लहर से बचना है तो रहें सर्तक

दिल्ली की R-Value बढ़कर 2.1 पर पहुंची, सार्वजनिक जगहों पर मास्क अनिवार्य
दिल्ली की R-Value बढ़कर 2.1 पर पहुंची, सार्वजनिक जगहों पर मास्क अनिवार्य

How should India prepare for forth wave: वहीं कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए चीन में फिर से लॉकडाउन लग चुका है। चीन के शंघाई में कोरोना से पिछले 24 घंटे में 39 मौतें हुई हैं, जबकि 21,058 संक्रमित भी मिले हैं। वहीं जर्मनी समेत बाकी यूरोपीय देशों में भी कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। (कोरोना से जर्मनी और फ्रांस में मौतों की संख्या में एक हफ्ते में इजाफा हुआ है) कोरोना का ग्राफ अफ्रीका और अमेरिका में भी तेजी से बढ़ रहा है।

क्या हमें चिंता करनी चाहिए?

दिल्ली में कोरोना मामलों में बड़ा उछाल, 24 घंटे में आए 1042 नए मामले
दिल्ली में कोरोना मामलों में बड़ा उछाल, 24 घंटे में आए 1042 नए मामले

COVID-19 FORTH WAVE precaution: इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल की रिसर्च महामारी विज्ञान विभाग के पूर्व प्रमुख का कहना है कि जैसे लोग मास्क लगाना बंद कर देते हैं। कोरोना केस फिर से बढ़ने लगते हैं। ऐसे में कोरोना केसों में उतार-चढ़ाव तो आता ही रहेगा, लेकिन जरूरी यह है कि इससे मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी ना हो।

क्या पाबंदियां लगाने जरूरी हैं?

राजधानी दिल्ली में 24 घंटे में आए 965 केस
राजधानी दिल्ली में 24 घंटे में आए 965 केस

corona virus omicron fourth wave india: दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए फिर से घर से बाहर मास्क नहीं पहनने वालों पर 500 रुपए का जुमार्ना लगाना शुरू कर दिया है। एक्सपर्ट का कहना है कि मास्क लगाने को हेल्थ एजुकेशन के साथ लागू करना चाहिए, लेकिन मास्क पहनने के अलावा, किसी भी तरह की पाबंदियां लगाने की कोई जरूरत नहीं है।

इस मामले में महामारी एक्सपर्ट का कहना है कि अगर लोगों को कोरोना हो भी जाता है तो इसमें घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि वायरस काफी माइल्ड है और इसके लिए स्कूल बंद करने या लॉकडाउन लगाने की कोई जरूरत नहीं है।

सार्वजनिक जगहों से रहें दूर

Delhi Noida Ghaziabad Haryana School COVID Cases

कोरोना की चौथी लहर से बचने के लिए जरूरी है कि आप जहां तक संभव हो भीड़-भाड़ वाले इलाकों से खुद को दूर रखें। डब्ल्यूएचओ के एक्सपर्ट का कहना है कि चौथी लहर में लॉकडाउन लगाने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी लेकिन कुछ नियमों का पालन करना अनिवार्य है।

वैक्सीनेशन/ बूस्टर डोज आवश्यक लगवाएं

राजधानी में कोरोना मामलों में आया उछाल, 24 घंटे में 1000 पार नए केस
राजधानी में कोरोना मामलों में आया उछाल, 24 घंटे में 1000 पार नए केस

कोरोना की चौथी लहर से बचने के लिए जरूरी है कि जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है। वह जल्द से जल्द अपना स्लॉट बुक करें. साथ ही जिन लोगों के लिए बूस्टर डोज की सुविधा सरकार की तरफ से उपलब्ध कराई गई है वह इसे लगवाएं।

अब 12 से 18 साल तक के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन की सुविधा उपलब्ध है। माता पिता बच्चों को वैक्सीन जरूर लगवाएं इससे चौथी लहर आने के बावजूद बच्चों में किसी गंभीर समस्या का डर नहीं रहेगा।

उधर आज भारत ड्रग्स कंट्रोलर जनरल आॅफ इंडिया 6 से 12 साल तक के बच्चों के लिए भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को इमरजेंसी प्रयोग की मंजूरी दे दी है। साथ ही 12 साल से अधिक की उम्र के बच्चों के लिए जायडस कैडिला की जायकोव डी वैक्सीन को भी मंजूरी दी गई है।

मास्क पहनना जरूरी

Covid-19 cases in India

एक्सपर्ट्स का मानना है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए जरूरी है कि भीड़भाड़ वाले इलाकों में मास्क जरूर पहनें। बता दें कोरोना से बचने के लिए मास्क ही एकमात्र हथियार है। ऐसे में मास्क नहीं पहनना अपनी जान को खुद जोखिम में डालने के समान है।

उधर, लखनऊ व एनसीआर के जिलों में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। इसमें गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, बुलंदशहर, बागपत शहरों में सख्ती से नियम का पालन करने के लिए कहा गया है। साथ ही टीकाकरण पर जोर देने का निर्देश है।

कोरोना बचने के लिए आयुर्वेदिक उपाए भी अपनाएं

New Covid-19 Guidelines For Chandigarh
New Covid-19 Guidelines For Chandigarh

प्राणायाम करें: प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट के लिए योग, प्राणायाम और मेडिटेशन का प्रयास करें। इसके अलावा अच्छी नींद लें। दिन में सोने से बचें और रात में 7-8 घंटे की नींद जरूरी लेनी चाहिए।

हल्दी वाला दूध पिएं: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए दो बार में 20 ग्राम च्यवनप्राश सुबह-शाम खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लें। हल्दी वाला दूध पिएं. इसे बनाने के लिए 150 एमएल गर्म दूध में आधा चम्मच हल्दी पाउडर डालकर मिला लें. इसे दिन में एक या दो बार पिएं।

भाप लें: सूखे कफ से राहत पाने के लिए भाप लें. आप सादे पानी से या फिर इसमें ताजा पुदीने की पत्तियां, अजवाइन या फिर कपूर डाल कर भी भाप ले सकते हैं। दिन में एक बार भाप जरूर लें। हालांकि, ध्यान रखें बहुत ज्यादा गर्म पानी की भाप ना लें.

लौंग शहद खाएं: लौंग या मुलेठी पाउडर को चीनी / शहद के साथ मिलाकर दिन में दो से तीन बार लें। इससे खांसी और गले में खराश से राहत मिलेगी

गर्म पानी: आयुष मंत्रालय ने हर किसी को गर्म पानी पीने की सलाह दी है। दिन भर में कई बार गर्म पानी पिएं. इसके अलावा, गर्म पानी में चुटकी भर नमक और हल्दी डालकर गरारा करें।

ताजा खाना खाएं: घर पर बना ताजा खाना खाएं। खाना ऐसा होना चाहिए जो आसानी से पच जाए। खाने में हल्दी, जीरा, धनिया, सूखी अदरक और लहसुन जैसे मसालों का इस्तेमाल करें। आंवला या फिर इससे बने प्रोडक्ट खाएं।

बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर बरतें सतर्कता

एक्सपर्ट्स अनुसार संभव है कि आने वाले दिनों में नए पॉजिटिव केस में इजाफा देखने को मिले। किंतु वायरस का यह वैरिएंट सामान्य वायरल की तरह ही है। कोविड टीका लगवा चुके लोगों के लिए खतरे की संभावना न्यून है। बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर हमें सतर्क रहना होगा। उन्होंने कहा कि एनसीआर व लखनऊ जैसे जिलों में जहां केस अधिक मिल रहे हैं, वहां फेस मास्क की अनिवार्यता को प्रभावी बनाया जाए।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

यह भी पढ़ें : Soorya से Sunny Deol का जबरदस्त लुक सामने आया , इस अंदाज में नजर आए सनी!

यह भी पढ़ें : Janhit Mein Jaari नुसरत भरुचा और राज शांडिल्य की फिल्म इस दिन होगी रिलीज

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
Amit Guptahttp://indianews.in
Managing Editor @aajsamaaj , @ITVNetworkin | Author of 6 Books, Play and Novel| Workalcholic | Hate Hypocrisy | RTs aren't Endorsements
RELATED ARTICLES

Most Popular