होम / अग्निपथ योजना को चुनौती देने वाली याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली हाईकोर्ट में ट्रासंफर किया

अग्निपथ योजना को चुनौती देने वाली याचिकाओं को सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली हाईकोर्ट में ट्रासंफर किया

Roshan Kumar • LAST UPDATED : July 19, 2022, 3:39 pm IST

इंडिया न्यूज़(दिल्ली): सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार द्वारा तीनो सेनाओं में भर्ती के लिए लाये गए अग्निपथ योजना के खिलाफ लगाई गई याचिकाओं को दिल्ली हाई कोर्ट में ट्रांसफर करने का आदेश दिया है,दिल्ली हाई कोर्ट में पहले से ही इसको लेकर याचिकाएँ लंबित है.

न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़,सूर्य कांत और जेबी पारदीवाला की पीठ ने यह आदेश तीन याचिकाओं को लेकर दिया जो संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत दयार की गई थी,इसमें से दो जनहित याचिकाएं थी और एक रिट याचिका थी जो एयरफोर्स की एयरमैन की भर्ती में चयनित छात्रों ने लगाई गई इनकी मांग थी अग्निपथ से पहले जो भर्तियां निकाली गई थी उसे पूरा किया जाना चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट ने देशभर में अलग अलग उच्च न्यायालयों में लंबित मामलों को खुद को ट्रांसफर करने से मना कर दिया,कोर्ट ने कहा की यह इस अदालत को योजना की वैधता और इसके कार्यान्वयन के विभिन्न पहलुओं पर उच्च न्यायालय के सुविचारित दृष्टिकोण से वंचित करेगा जो कई उच्च न्यायालयों में उठाए जा रहे हैं.

कोर्ट ने कहा की पटना \,पजांब और हरियाणा,उत्तराखंड और केरल उच्च न्यायालयों को मामले लंबित है या तो हाईकोर्ट इन मामलो को दिल्ली हाईकोर्ट में ट्रांसफर कर दे,यदि याचिकाकर्ता ऐसा नहीं चाहता तो तो मामला को लंबित रखकर याचिकाकर्ता को दिल्ली हाईकोर्ट के सामने अपनी बात रखने का मौका दे.

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दिल्ली हाईकोर्ट से तेजी से फैसला करने को भी कहा है.

केंद्र सरकार ने तीनो सेनाओं में भर्ती के लिए 14 जून को अग्निपथ योजना का ऐलान किया था,जिसमे चार साल के लिए 17 से 21 साल के युवा शामिल को सकेंगे,इस योजन के ऐलान के बाद ही देश भर में प्रदर्शन हुए थे खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार में बड़ी मात्रा में रेलवे की सम्पत्ति को नुकसान भी पहुंचाया गया था,जिसके बाद केंद्र सरकार ने भी कुछ बदलाव किये थे,जिसमे पहले भर्ती में दो साल उम्र की सीमा बढ़ाना,अग्निपथ योजना के दौरान किये गई कामों हो स्किल का कोर्स मानना,अग्निवीरो की पढ़ाई की लिए ओपन कोर्स लाना,रक्षा मंत्रालय से जुड़े सार्वजनकि उपक्रमों और तट रक्षा बलों में अग्निवीरो को 10 प्रतिशत आरक्षण देना,केंद्रीय सुरक्षा बलों में 10 प्रतिशत आरक्षण देना देने जैसे फैसले शामिल थे,वही मर्चेंट नेवी और कई निजी छेत्र की कंपनियों ने भी अग्निवीरो को प्राथमिकता देने की बात कही थी,भारतीय वायु सेना ने 24 जून को अग्निपथ योजना की तहत आवेदन मांगे थे 6 जुलाई तक वायुसेना को 7.5 लाख आवेदन मिले,वही थल सेना और नौसेना में अभी आवेदन करने की प्रक्रिया जारी है.

Tags:

Get Current Updates on News India, India News, News India sports, News India Health along with News India Entertainment, India Lok Sabha Election and Headlines from India and around the world.

ADVERTISEMENT

लेटेस्ट खबरें

Afghanistan Rains: पूर्वी अफगानिस्तान में बारिश का कोहराम, करीब 40 लोगों की मौत, 230 घायल
Jammu and Kashmir Encounter: जम्मू-कश्मीर के डोडा में आतंकियों से मुठभेड़ जारी, सेना का जवान घायल
US President Election: रिपब्लिकन ने किया उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का एलान, ओहायो के सीनेटर जेडी वेंस देंगे ट्रंप का साथ
US President Election: डोनाल्ड ट्रंप बनाए जाएंगे राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार! रिपब्लिकन कन्वेंशन में पार्टी कर सकती है घोषणा
BJP Attack on Justin Trudeau: दिलजीत दोसांझ को ट्रूडो ने बताया पंजाबी सिंगर, बीजेपी ने कसा तंज
NTA CUET UG का दुबारा कराएंगा री एग्जाम, जानें कौन कैंडिडेट्स दे सकते हैं ये परीक्षा
Amritpal Singh: अमृतपाल सिंह ने लोकसभा अध्यक्ष लिखी चिट्ठी, जानें क्या है मामला?
ADVERTISEMENT