Wednesday, October 27, 2021
HomeनेशनलLakhimpur Violence : क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुआ मुख्यारोपी

Lakhimpur Violence : क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुआ मुख्यारोपी

इंडिया न्यूज, लखीमपुर :
तीन अक्टूबर को प्रदर्शन कर रहे किसानों को गाड़ी से कुलचने का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच से पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा है। उसके घर के बाहर नोटिस लगाने के बाद भी वह पूछताछ के लिए हाजिर नहीं हुआ। वहीं बताया जा रहा है कि शायद वह नेपाल भाग गया है।  उसे शुक्रवार को क्राइम ब्रांच ने सुबह 10 बजे उसे पूछताछ के लिए बुलाया था। इस बीच मीडिया रिपोर्टस में आशीष के लखीमपुर से लगे नेपाल के सीमावर्ती इलाके में छिपे होने की आशंका जताई जा रही है। सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि आशीष नेपाल सीमा के आसपास कहीं छिपा हो सकता है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सक्रिय हुई पुलिस (Lakhimpur Violence)

कल सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस मामले में जवाब-तलब किए जाने के बाद से यूपी पुलिस आशीष के मामले सक्रिय नजर आने लगी। पुलिस, आशीष के घर भी गई। वह घर पर नहीं मिला तो पुलिस ने घर के गेट पर उसे शुक्रवार को सुबह 10 बजे तक हाजिर होने का नोटिस चस्पा कर दिया। पुलिस की अलग-अलग टीमें आशीष की तलाश में जुटी हैं। बताया जा रहा है पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

आशीष मिश्र की तलाश जारी : आईजी (Lakhimpur Violence)

लखनऊ जोन की आईजी लक्ष्मी सिंह ने भी कहा कि आशीष से इस मामले में पूछताछ करनी आवश्यक है। उसकी तलाश की जा रही है। उधर, विपक्ष सवाल उठा रहा है कि आखिर पांच दिन पहले हुई घटना में आशीष को अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया था? विपक्ष का आरोप है कि इस पूरे मामले में पुलिस शुरू से केंद्रीय गृहराज्य मंत्री के बेटे को बचाने में जुटी है। लखीमपुर हिंसा में चार किसान, पत्रकार और भाजपा कार्यकर्ता समेत कुल आठ मौतों के बावजूद पुलिस ने चार दिन तक आशीष से पूछताछ करने तक की जरूरत नहीं समझी।

गुरुवार को दो लोगों की गिरफ्तारी हुई (Lakhimpur Violence)

गौरतलब है कि पुलिस ने कल आशीष पांडेय और लवकुश नामक दो लोगों को हिरासत में लिया था जिनपर आरोप है कि वे उस फार्रच्यूनर गाड़ी में सवार थे जो किसानों को रौंदने वाली थार जीप के पीछे-पीछे चल रही थी।
लखीमपुर हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट में आज भी सुनवाई होनी है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार आज यूपी सरकार को मामले की स्टेटस रिपोर्ट वहां पेश करनी है।

(Lakhimpur Violence)

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE