Saturday, October 23, 2021
HomeHealth TipsMother's Milk is the Best : बच्चे को नहीं करा पा रहीं...

Mother’s Milk is the Best : बच्चे को नहीं करा पा रहीं फीड तो डाइट में शामिल करें ये

Mother’s Milk is the Best: कुछ वजहों से महिलाओं में दूध ठीक से नहीं बन पाता है और दूध की कमी हो जाती है। जिससे मां और बच्चे दोनों को समस्या होती है। ऐसी महिलाओं को अपने खान-पान और जीवनशैली का खास ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यदि स्तनपान के बिना बच्चे का पोषण अधूरा रह जाएगा। हर नवजात शिशु के लिए माँ का दूध ही बेस्ट माना जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार भी 6 महीने तक बच्चे को सिर्फ माँ का दूध ही पिलाना चाहिए।

इससे बच्चे को सही पोषण मिलता है और उसके शरीर में कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ती है। ब्रेस्टफीड यानि स्तनपान कराने से माँ और बच्चे के बीच एक मजबूत डोर बंध जाती है जो दोनों को भावनात्मक तौर पर जोड़े रखती है। लेकिन कई महिलाओं में कुछ कारणों से स्तन में दूध ठीक से नहीं बन पाता है और दूध की कमी हो जाती है जिससे माँ और बच्चे दोनों को समस्या होती है।

ऐसी महिलाओं को अपने खान-पान और जीवनशैली का खास ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यदि स्तनपान के बिना बच्चे का पोषण अधूरा रह जाएगा। आज के इस लेख में हम आपको स्तन में दूध बढ़ाने के कुछ ऐसे घरेलु नुस्खे बताने जा रहे हैं जो दादी-नानी के जमाने से इस्तमाल होते चले आ रहे हैं। इस लेख में हम कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जिनके इस्तमाल से आपको स्तन में दूध की कमी की समस्या में मदद मिलेगी। आइए जानते हैं इनके बारे में-

Also Read : Benefits of Jumping Jacks : सूर्य नमस्कार से पहले करें जंपिंग जैक्स, सेहत को होगा फायदा

Read Also : How To Sleep Well During Cold जानें, तेज सर्दी-जुकाम में अच्छी नींद कैसे आए

Read Also : Japanese Weight Loss Therapy  इस तरीके से पीए पानी वजन होगा कम

Oatmeal (Mother’s Milk is the Best)

ओटमील एक बहुत ही अच्छा एनर्जी सोर्स है। इसमें आयरन, कैल्शियम और बी विटामिन की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है जिससे बॉडी को एनर्जी मिलती है। इसके साथ ही इसमें मौजूद फाइबर से डाइजेशन भी ठीक रहता है।

Fenugreek

जिन महिलाओं के स्तनों में दूध नहीं बनता है उन्हें मेथी का सेवन करने की सलाह दी जाती है। नई माँ में दूध की कमी पूरी करने के लिए मेथी खाने का नुस्खा काफी पुराना है। मेथी के बीजों में ओमेगा-3, फैट और कई तरह के विटामिन पाए जाते हैं, जो ब्रेस्टफीड यानी स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए अच्छे होते हैं। आप मेथी के दानों को किसी भी तरह इस्तमाल कर सकती हैं। आप चाहें तो इसे सब्जी में डालें या इसकी चाय बना कर पी सकती हैं।

Fennel (Mother’s Milk is the Best)

 

जिन महिलाओं में ब्रेस्ट मिल्क कम बनता है उनके लिए सौंफ का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है। इसके अलावा सौंफ में ओटेशियम, फॉलेट, विटामिन सी, विटामिन बी-6 और फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। सौंफ खाने से गैस और पेट की अन्य समस्याएं भी दूर होती हैं।

Papaya

ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने के लिए कच्चे पपीते का सेवन बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसमें पपीता खाने से शरीर में आॅक्सिटॉसिन का उत्पादन बढ़ता है, जो ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद करता है।

Carrot

गाजर में विटामिन-ए, एल्फा और बीटा-कैरोटीन जैसे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद करते हैं। स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपनी डाइट में गाजर जरूर शामिल करनी चाहिए।

शतावरी (Mother’s Milk is the Best)

जिन महिलाओं में ब्रेस्ट मिल्क कम बनता है उनके लिए शतावरी का सेवन बहुत लाभकारी होता है। इसमें मौजूद फाइबर, विटामिन-ए और विटामिन-के ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद करते हैं।

Cow’s milk

नई मां में ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने के लिए गाय का दूध पीना बहुत फायदेमंद होता है। गाय के दूध में प्रोटीन, कैल्शियम, पोटैशियम और विटामिन जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जिन महिलाओं में ब्रेस्ट मिल्क कम बनता हो उन्हें रोजाना गाय के दूध का सेवन करना चाहिए।

Green Vegetable

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर शामिल करनी चाहिए। इनमें मौजूद आयरन, कैल्श्यिम और फोलेट स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसके साथ ही इनमें बीटाकैरोटीन और राइबोफ्लेविन जैसे पोषक तत्व प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं जो ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद करते हैं। अपने खाने में हरी पत्तेदार सब्जियां पालक, मेथी, सरसोंऔर बथुआ आदि शामिल करें।

Jeera (Mother’s Milk is the Best)

आमतौर पर खाने में मसाले के तौर पर इस्तमाल किए जाने वाला जीरा नई माँ में ब्रेस्ट मिल्क बढ़ाने में मदद करते हैं। दूध की आपूर्ति बढ़ाने में भी बहुत मददगार होता है। इसमें कैल्शियम और राइबोफ्लेविन पाया जाता है जो पेट संबंधी परेशानियों को दूर करता है।

तिल के बीज

तिल के बीज कैल्शियम का एक अच्छा स्त्रोत है। स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए कैल्शियम एक जरुरी पोषक तत्व है। जिन महिलाओं में दूध कम बनता है उन्हें तिल का सेवन करना चाहिए। शायद यही कारण है कि नई माँ को तिल के लड्डू खिलाए जाते हैं।

दाल

दाल प्रोटीन का एक बहुत अच्छा स्त्रोत होती है। इसमें आयरन और फायबर की भी पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। नई माताओं में दूध की कमी पूरी करने के लिए दाल का सेवन करना फायदेमंद रहता है।

Nuts (Mother’s Milk is the Best)

नई माताओं को सूखे मेवे जैसे काजू, बादाम, किशमिश आदि दूध में उबालकर दिए जाते हैं। दादी कहती हैं कि सूखे मेवे खाने से नई माँ में स्तन दूध बढ़ता है। इनमें विटामिन, प्रोटीन जैसे कई अन्य पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो नई मां को ऊर्जा और सही पोषण देते है।

Also Read : MG Astor भारत में हुई लॉन्च, कीमत 9.78 लाख से शुरू, जानें डिजाइन से फीचर्स तक सारी जानकारी

Also Read : Causes of Heart Diseases : शरीर में आयरन की कमी से हार्ट से जुड़ी बीमारियों का हो सकता है खतरा

Also Read : Hair fall Reasons in Hindi चार बीमारियों के कारण तेजी से झड़ते हैं बाल, इस तरह पहचाने लक्षण

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE