Sunday, October 24, 2021
HomeपंजाबOm Prakash Soni : लोक हित में काम करें अधिकारी

Om Prakash Soni : लोक हित में काम करें अधिकारी

उप मुख्यमंत्री ने छोटे दुकानदारों को सैंपलिंग के नाम पर तंग करने वाले अधिकारियों को दी चेतावनी
इंडिया न्यूज, चंडीगढ़ :
पंजाब के उप मुख्यमंत्री Om Prakash Soni ने सभी जिलों में तैनात फूड और ड्रग प्रबंधन विभाग के अधिकारियों को हिदायत की कि वह लोक हित को मुख्य रखते हुए अपनी ड्यूटियों का निर्वाह करें। हेडक्वार्टर और फील्ड अधिकारियों के साथ पहली मीटिंग करते हुए उन्होंने कहा कि जिलों में तैनात फूड ब्रांच के अधिकारी यह यकीनी बनाएंगे कि राज्य के लोगों को उच्च गुणवत्ता वाला खाद्य पदार्थ यकीनी तौर पर मिले। इसके साथ ही उन्होंने यह भी हिदायत की कि छोटे दुकानदारों को सैंपलिंग के नाम पर तंग न किया जाए।

नये सिरे से तय करें लक्ष्य (Om Prakash Soni)

सोनी ने अधिकारियों को हिदायत की कि वह मासिक सैंपलिंग के लक्ष्य को नये सिरे से तय करें। उन्होंने फूड अधिकारी को कहा कि सिर्फ मासिक लक्ष्य पूरा करने के लिए ही सैंपलिंग न करें, बल्कि लोगों को घटिया गुणवत्ता के खाद्य पदार्थों की बिक्री करने वाले दुकानदारों पर नकेल कसने के लिए ऐसे दुकानदारों की सैंपलिंग को यकीनी बनाएं।

किसी भी तरह का अवैध नशा न बिके (Om Prakash Soni)

इस मौके पर उन्होंने ड्रग ब्रांच के अधिकारियों को हिदायत की कि वह यह यकीनी बनाएं कि राज्य में किसी भी प्रकार का मेडिकल नशा न बिके।
सोनी ने राज्य में अन्य नए नशामुक्ति केंद्र खोलने की मंजूरी देने पर रोक लगाते हुए कहा कि उच्च अधिकारी राज्य के सभी नशामुक्ति केंद्रों के काम-काज का मुल्यांकन करें और यदि कोई नशामुक्ति केंद्र गलत काम करता पाया जाता है तो उनके विरुद्ध नियम अनुसार बनती कार्रवाई तुरंत अमल में लाई जाए। उन्होंने ड्रग इंस्पेक्टरों को हिदायत की कि वह हर महीने नशामुक्ति केंद्रों की जांच करके रिपोर्ट करेंगे।

कोई अधिकारी रिश्वत मांगे तो करें सूचित

सोनी ने मीटिंग में उपस्थित अधिकारियों को कहा कि किसी भी प्रकार का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और भ्रष्टाचार संबंधी जिस भी अधिकारी /कर्मचारी की शिकायत मिली, उसके विरुद्ध तुरंत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील की कि यदि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का कोई अधिकारी /कर्मचारी रिश्वत की मांग करता है, तो उस संबंधी सूचना उनके ध्यान में लाई जाए।

Connect With Us : Twitter Facebook
SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE