Friday, October 22, 2021
HomeHealth Tipsमहिलाओं की फर्टिलिटी के लिए वरदान हो सकती है 'Ozone Therapy'

महिलाओं की फर्टिलिटी के लिए वरदान हो सकती है ‘Ozone Therapy’

Ozone Therapy इन दिनों इन्फर्टिलिटी या बांझपन सबसे आम स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है। इंडियन सोसाइटी ऑफ असिस्टेड रिप्रोडक्शन की 2019 की एक रिपोर्ट के अनुसार,ये समस्या भारतीय आबादी के लगभग 10 से 14 प्रतिशत लोगों को प्रभावित कर रही है।

जब लगातर प्रयास के बावजूद एक साल तक गर्भ नहीं ठहरता तो इन्फर्टिलिटी के लिए इलाज़ कराना शुरू कर देना चाहिए। बांझपन से पीड़ित कई महिलाओं के लिए ओजोन थेरेपी एक वरदान साबित हो रही है।

ओजोन थेरेपी कैसे मदद करती है? (Ozone Therapy)

ओजोन थेरेपी संक्रमण को कम करके काम करती है, ऑक्सीजन को सूजन वाले क्षेत्र तक पहुंचाने में मदद करती है और यह मेटाबॉलिज्म में सुधार करके हार्मोन को संतुलित करती है। ओजोन थेरेपी में एक शक्तिशाली कीटाणुनाशक प्रभाव भी होता है और बैक्टीरिया, कवक, ईस्ट, वायरस और प्रोटोजोआ के कारण होने वाले संक्रमण के इलाज में मदद करता है।

ऐसे होता है उपचार (Ozone Therapy)

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी) औरतों में होने वाली एक बहुत ही सामान्य समस्या है जो बैक्टीरिया, फंगल के कारण पेल्विक क्षेत्र के आसपास होता है।

ओजोन  में एंटीबैक्टीरियल और एंटिफंगल एजेंट होने के कारण यह पीआईडी के उपचार में बहुत उपयोगी है। कई बार सूजन के कारण ट्यूबल ब्लॉक होता है।

(Ozone Therapy)

इसका का इलाज भी ओजोन थेरेपी से किया जा सकता है। योनि से दी गई ओजोन कॉर्नू या ट्यूबों में सूजन को कम कर सकती है और ब्लॉक को खोलने में मददगार साबित हुई है। इसके अलावा पॉलीसिस्टिक ओवरी  (पीसीओडी) जो आज की महिलाओं में सबसे आम बीमारी है।

इससे होने वाले हार्मोनल बदलाव को भी ओजोन थैरपी  की मदद से सही किया जा सकता है। पीसीओडी से मोटापा, बाल झड़ना, अनियमित मासिक धर्म और पिंपल्स भी होते हैं जो महिलाओं में बहुत तनाव पैदा करते हैं। ओजोन थेरेपी हार्मोन के सुधार में मदद करती है जो पीसीओडी के इलाज में फायदेमंद है।

(Ozone Therapy)

 

Also Read : Health Tips इन आदतों को तुरंत बदल डालें वरना हो जाएगा ब्रेन स्‍ट्रोक

 

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE