Thursday, October 21, 2021
HomeदुनियाPakistan International Airlines पाकिस्तान ने काबुल के लिए सस्पेंड की अपनी उड़ानें

Pakistan International Airlines पाकिस्तान ने काबुल के लिए सस्पेंड की अपनी उड़ानें

इंडिया न्यूज, इस्लामाबाद :

Pakistan International Airlines तालिबान की ओर से टिकट की कीमतों पर उठाए गए सवाल के बाद पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) ने गुरुवार को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के लिए उड़ानें सस्पेंड कर दीं। पीआईए ने कहा कि तालिबानी अधिकारियों की सख्ती के कारण हम आज से काबुल के लिए अपने उड़ान संचालन को सस्पेंड कर रहे हैं। तालिबान के कब्जे के बाद से अधिकांश अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस अब अफगानिस्तान के लिए उड़ान नहीं भरती हैं।

Pakistan International Airlines तालिबान सरकार ने दी थी चेतावनी

दरअसल, तालिबान सरकार ने काबुल से नियमित रूप से संचालित होने वाली एक मात्र अंतरराष्ट्रीय कंपनी पीआईए को टिकटों में कटौती करने को कहा था। तालिबानी अधिकारियों ने कहा था कि जब तक वे टिकटों की कमी में कटौती करने पर सहमत नहीं होते हैं तो उन्हें बंद किया जा सकता है।

Pakistan International Airlines कर्मचारियों को करना पड़ रहा तालिबान कमांडरों के बेहद डराने वाले व्यवहार का सामना : PIA

पीआईए ने कहा कि जब से नई तालिबान सरकार बनी है, काबुल में उसके कर्मचारियों को नियमों और उड़ान अनुमतियों में अंतिम क्षणों में बदलाव और तालिबान कमांडरों के बेहद डराने वाले व्यवहार का सामना करना पड़ा है। पीआईए ने यह भी दावा किया कि उसके देश के प्रतिनिधि को एक जगह घंटों तक बंदूक की नोक पर रखा गया था। काबुल में पाकिस्तान दूतावास के हस्तक्षेप के बाद उसे मुक्त कराया गया।

Pakistan International Airlines 120 से 150 डॉलर की जगह 2500 डॉलर वसूल रहा PIA

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक काबुल से पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के लिए उड़ान भरने वाली फ्लाइटों का 2500 डॉलर तक के टिकट हैं, जबकि पहले यह 120 से 150 डॉलर था। अफगानिस्तान परिवहन मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि टिकटों के दाम पहले की ही तरह होने चाहिए नहीं तो उड़ानें रोक दी जाएंगी।

Read More : अफगानों को लूट रही Pakistan Airline, तालिबान ने चालाकी पकड़ कहा- कर देंगे बैन

Connect Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE