Wednesday, October 27, 2021
HomeनेशनलPriyanka Reached Lakhimpur Kheri, अंतिम अरदास में शामिल

Priyanka Reached Lakhimpur Kheri, अंतिम अरदास में शामिल

Priyanka Reached Lakhimpur Kheri , attends the last prayer

इंडिया न्यूज, लखनऊ:
Priyanka Reached Lakhimpur Kheri : लखीमपुर हिंसा में मृत किसानों के लिए अंतिम अरदास की गई। इसमें प्रियंका गांधी भी शामिल हुईं। राकेश टिकैत समेत कई किसान नेता सोमवार रात ही लखीमपुर पहुंच गए थे। राज्य सरकार ने किसानों के जुटान को देखते हुए यूपी के 20 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया है।

लखीमपुर खीरी के तिकोनिया गांव में जहां हिंसा हुई थी, वहां से थोड़ी दूर पर एक खेत में यह कार्यक्रम था। इस कार्यक्रम में कई राज्यों के किसान नेता और यूनियन नेता भाग लेने पहुंचे हैं। संयुक्त किसान मोर्चा ने देशभर में आज प्रार्थना और श्रद्धांजलि सभाओं का आयोजन करने की अपील की है। इसके साथ ही रात आठ बजे घरों के बाहर पांच मोमबत्तियां जलाने का आग्रह भी किया है।

Also Read : Coal Crisis Continues : कई गुना बढ़े कोयले का दाम, जानिए क्यों भारत-चीन में आया संकट

मंगलवार सुबह प्रियंका इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए लखनऊ ने निकलीं थी, जिसके बाद अरदास कार्यक्रम में पहुंचने के बाद मंच के नीचे ही नजर आई। प्रियंका ने यहां किसानों और महिलाओं से बात भी किया।
इससे पहले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने प्रियंका गांधी के दौरे को लेकर जानकारी देते हुए कहा है कि प्रियंका गांधी लखीमपुर के किसानों की अंतिम अरदास में शामिल होने के लिए लखनऊ एयरपोर्ट से निकल चुकी हैं। इससे पहले प्रियंका गांधी ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के इस्तीफे की मांग करते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा- मंत्री का बेटा किसानों की हत्या के आरोप में गिरफ्तार, क्या अब भी मंत्री को अपने पद पर बने रहने का है अधिकार?

Also Read : दिल्ली में बड़े आतंकी हमले की कोशिश नाकाम

लखनऊ में प्रियंका गांधी और राहुल गांधी के खिलाफ एक पोस्टर भी लगा दिखा है। इसमें प्रियंका-राहुल को वापस जाने के लिए कहा गया है। इसके अलावा राष्ट्रीय लोकदल के नेता जयंत चौधरी को बरेली एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया है।
लखीमपुर हिंसा में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगा है। इस घटना में चार किसानों की मौत हो गई, जिसके बाद भड़की हिंसा में तीन बीजेपी कार्यकर्ता और एक स्थानीय पत्रकार मारे गए। घटना के बाद सरकार और किसानों के बीच समझौता भी हो गया था, लेकिन अब किसान संगठन सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगा रहे हैं। किसानों की मांग है कि केंद्रीय मंत्री को बर्खास्त किया जाए, जिससे कि इस मामले की निष्पक्ष जांच हो सके।
(Priyanka Reached Lakhimpur Kheri)

Also Read : बच्चों के लिए वैक्सीन को मंजूरी, दो से 18 साल के बच्चे भी सुरक्षित

Connect With Us : Twitter Facebook
SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE