Tuesday, November 30, 2021
HomePunjabKejriwal in Punjab: पंजाब में शिक्षा सुधारों के लिए केजरीवाल ने अध्यापकों...

Kejriwal in Punjab: पंजाब में शिक्षा सुधारों के लिए केजरीवाल ने अध्यापकों को दी 8 गारंटी

इंडिया न्यूज, अमृतसर:
Kejriwal in Punjab: आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय नेता एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के सरकारी स्कूलों और अध्यापकों की दयनीय हालत को बड़ी त्रासदी करार दिया है। केजरीवाल ने पंजाब में व्यापक शिक्षा सुधारों के लिए अध्यापकों को 8 गारंटी दी हैं और वादा किया है कि 2022 में आम आदमी पार्टी की सरकार बनते ही इन 8 गारंटियों को प्राथमिकता के आधार पर अमल में लाया जाएगा। दिल्ली की तरह पंजाब की सरकारी स्कूल शिक्षा प्रणाली का व्यापक कायाकल्प करने के लिए केजरीवाल ने सभी अध्यापकों को आप का मुहिम से जुड़ने का निमंत्रण दिया।

Kejriwal in Punjab

शिक्षकों के लिए केजरीवाल की 8 गारंटियां Kejriwal in Punjab

केजरीवाल की 8 गारंटियों में पंजाब में शिक्षा के क्षेत्र में दिल्ली जैसा माहौल बनाना, आउटसोर्सिंग और ठेका भर्ती टीचरों को पक्का करने, पारदर्शी स्थानांतरण नीति लागू करने, अध्यापकों से नॉन टीचिंग काम लेना बंद करने, रिक्त पदों पर पक्की भर्ती करने, अध्यापकों को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजने, नई भर्तियों के लिए नवीन पारदर्शी नीति लाने और अध्यापकों व उनके पारिवारिक सदस्यों के लिए कैशलेस मेडिकल सुविधाएं देना शामिल है।

पंजाब में शिक्षा के लिए बेहतर माहौल बनाएंगे Kejriwal in Punjab

अरविंद केजरीवाल मंगलवार को पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद भगवंत मान के साथ ‘गुरु की नगरी’ श्री अमृतसर साहिब में मीडिया से रूबरू हुए। इस मौके पर पार्टी के पंजाब मामलों के प्रभारी जरनैल सिंह और सह प्रभारी राघव चड्ढा भी उपस्थित रहे। केजरीवाल ने समाज के विकास के उत्थान के लिए शिक्षा और अध्यापकों के महत्व को अहम मानते हुए पंजाब में शिक्षा के लिए बेहतर माहौल बनाने की पहली गारंटी दी।

Kejriwal in Punjab

उन्होंने कहा कि जैसे दिल्ली में शिक्षा का बेहतर माहौल बनाया है, वैसा ही माहौल पंजाब में बनाया जाएगा, जिसके तहत उच्च स्तरीय शिक्षा ढांचा तैयार किया जाएगा। केजरीवाल ने दूसरे गारंटी में हर तरह के कच्चे, आउटसोर्सिंग और ठेका आधारित अध्यापकों को पक्का करने का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि पंजाब में अधिकांश अध्यापक 18 वर्षों से केवल 10 हजार रुपये प्रति महीना पर काम कर रहे हैं, जो अध्यापक वर्ग के साथ बड़ा मजाक है।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से की अपील Kejriwal in Punjab

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को अपील करते हुए केजरीवाल ने कहा कि टैंकियों पर चढ़े अध्यापकों कि दो मांगें, रिक्त पदों को भरने और कच्चे अध्यापकों को पक्का करने की तुरंत मानी जाएं। यदि चन्नी सरकार ऐसा नहीं करती तो अपने अगले पंजाब दौरे के दौरान वह (केजरीवाल) स्वयं अध्यापकों के धरने में शामिल होंगे और ैआप’ की सरकार बनने पर अध्यापकों की मांगे पूरी करेंगे।

अध्यापक स्थानांतरण नीति को बदलेंगे Kejriwal in Punjab

पंजाब के अध्यापकों की ट्रांसफर को चिंता से मुक्त करने के लिए केजरीवाल ने अध्यापक स्थानांतरण नीति को बदलने की भी तीसरी गारंटी अध्यापकों को दी। केजरीवाल ने कहा कि पंजाब में एक अध्यापक को 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित दो-दो स्कूलों में पढ़ाने के लिए मजबूर किया जाता है। दिल्ली की तरह पंजाब में अध्यापकों के स्थानांतरण(ट्रांसफर) के संबंध में दोषपूर्ण स्थानांतरण नीति भी बदल दी जाएगी। पूर्ण पारदर्शिता के साथ अध्यापकों की अपनी पसंद पर आधारित और घर के समीप पोस्टिंग वाली नीति लागू की जाएगी।

Kejriwal in Punjab

अध्यापकों से गैर शैक्षणिक काम नहीं करवाए जाएंगे Kejriwal in Punjab

चौथी गारंटी में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अध्यापकों पर गैर शैक्षणिक काम नहीं करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जैसे दिल्ली में अध्यापकों पर बीएलओ, जनगणना और क्लर्कों जैसे काम नहीं कराए जाते है, उसी प्रकार पंजाब में ऐसे कार्यों समेत अन्य गैर शैक्षणिक काम नहीं करवाए जाएंगे।

अध्यापकों के रिक्त पदों को भरने की घोषणा Kejriwal in Punjab

पांचवीं गारंटी में उन्होंने अध्यापकों के सभी रिक्त पदों को भरने की घोषणा की। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में शिक्षा सुधार अकेले अरविंद केजरीवाल या मनीष सिसोदिया ने नहीं किए, ये सुधार अध्यापकों के साथ मिलकर हुए हैं। दिल्ली सरकार ने अध्यापकों को अच्छा माहौल दिया है और विश्व स्तरीय ट्रेनिंग महिया की है।

Kejriwal in Punjab

पंजाब के अध्यापकों प्रशिक्षण के लिए भेजेंगे Kejriwal in Punjab

छठी गारंटी में इस बात की है, जैसे दिल्ली के अध्यापक विदेशों में प्रशिक्षण (ट्रेनिंग) के लिए भेजे जाते हैं, उसी तरह पंजाब के अध्यापकों को भी भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली के अध्यापकों को फिनलैंड, कनाडा, अमेरिका और इंग्लैंड जैसे देशों समेत देश के मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट (प्रबंधन संस्थाओं) में आधुनिक शैक्षणिक विद्या के प्रशिक्षण दिलाए गए हैं और इसी तरह का प्रशिक्षण पंजाब के अध्यापकों को दिलाया जाएगा।

अध्यापकों और उनके परिवार को कैशलेस मेडिकल सुविधा Kejriwal in Punjab

इसके साथ ही केजरीवाल ने अध्यापकों को समयानुसार पदोन्नति देने की सातवीं गारंटी दी। जबकि आठवीं गारंटी में हरेक अध्यापक और उसके परिवार को कैशलेस मेडिकल सुविधा देने की घोषणा की। आप’ सुप्रीम सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने प्रदेश में शिक्षा के लिए बेहतर माहौल बनाने, व्यवस्था बदलने और नया पंजाब बनाने के लिए अध्यापकों से पार्टी से जुड़ने की अपील की। केजरीवाल ने कहा कि पिछली सरकारों की लापरवाही के कारण पंजाब के सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 24 लाख से अधिक बच्चों का भविष्य अंधकार में है, क्योंकि पंजाब में पढ़ाई के नाम की कोई चीज नहीं है।

सरकारी स्कूलों के गेटों पर पेंट करके उन्हें स्मार्ट स्कूल दशार्या जा रहा है, जो कि बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। इससे पहले पंजाब प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद भगवंत मान ने कहा कि समाज की तरक्की का मूल आधार स्कूल शिक्षा होती है लेकिन पंजाब में सत्ताधारियों ने स्कूली शिक्षा का बेड़ा गर्क कर दिया है। मान ने कहा कि दिल्ली के शिक्षा मॉडल ने विश्व स्तर पर नाम कमाया है, जबकि पंजाब के स्कूलों को ताले लगाए जा रहे हैं।

Read More: Former Police Commissioner Parambir Singh Absconding लापता पूर्व पुलिस कमीश्नर परमबीर सिंह

Connect With Us:  Twitter Facebook
SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE