Tuesday, November 30, 2021
HomeUttar PradeshMayawati Raised the Issue of Reservation मायावती ने उठाया आरक्षण का मुद्दा

Mayawati Raised the Issue of Reservation मायावती ने उठाया आरक्षण का मुद्दा

इंडिया न्यूज, लखनऊ:
Mayawati Raised the Issue of Reservation : बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सीएम मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से आरक्षण पर प्रदेश और केंद्र सरकार को घेरा। उन्होंने विधायक उमाशंकर सिंह को बसपा विधानमंडल दल का नेता बनाए जाने की जानकारी भी दी।

Mayawati Raised the Issue of Reservation

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री ने संविधान दिवस के अवसर पर कहा कि संविधान में आरक्षण के लिए जो व्याख्या की गई है, उसे ठीक से पालन नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि निजी संस्थानों में आरक्षण नहीं दिया जाता है। इसके लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी और प्रदेश की योगी आदित्यनाथ की सरकार को प्रभावी कदम उठाने चाहिए थे। जो उन्होंने नहीं उठाए। इसके साथ ही उन्होंने समाजवादी पार्टी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि सपा जैसे दल पर कभी भरोसा नहीं किया जा सकता है।

Mayawati Raised the Issue of Reservation

READ ALSO : House is Rent Exemption in Income Tax किराए का है घर तो आयकर में मिलती है छूट

विधानमंडल दल के नेता की जानकारी भी दी Mayawati Raised the Issue of Reservation

इसके साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश में बसपा के विधानमंडल दल का नया नेता चुनने की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बसपा विधायक उमाशंकर सिंह को पार्टी का विधानमंडल दल का नेता चुना गया है। बता दें कि उमाशंकर सिंह बलिया जिले की रसड़ा विधानसभा सीट से विधायक हैं। रसड़ा से वे दो बार विधायक चुन करके विधानसभा पहुंचे हैं।

बसपा सुप्रीमो को सौंपा था इस्तीफा Mayawati Raised the Issue of Reservation

गौरतलब है कि आजमगढ़ की सगड़ी विधानसभा सीट से बसपा विधायक वंदना सिंह के बाद गुरुवार को पार्टी के विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने बसपा सुप्रीमो को अपना इस्तीफा सौंप दिया था। साथ ही, उन्होंने कहा कि 21 नवंबर को आपसे मुलाकात में मुझे लगा कि पार्टी के प्रति मेरी निष्ठा और ईमानदारी के बावजूद आप संतुष्ट नहीं हैं। अगर मेरे नेता मुझसे या मेरे काम से संतुष्ट नहीं हैं तो मैं पार्टी पर बोझ नहीं बनना चाहता।

मायावती का बयान Mayawati Raised the Issue of Reservation

मायावती का एक बयान जारी किया गया था। इसमें कहा गया था कि अवगत कराना है कि पार्टी को मीडिया से यह ज्ञात हुआ है कि बीएसपी एमएलए व विधानमंडल दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने अपने सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। इसका खास कारण कुछ और नहीं बल्कि यह है कि इनकी कंपनी में एक लड़की काम करती थी जिसने इनके चरित्र पर गंभीर आरोप लगाते थे। इनके विरूद्ध पुलिस में शिकायत भी दर्ज करा दी थी, जिसकी विवेचना अभी चल रही है। ऐसा इन्होंने मुझे खुद ही बताया था।

Mayawati Raised the Issue of Reservation

इस घटना के बाद वह मुझ पर यूपी के मुख्यमंत्री से कहकर इस मामले को रफा-दफा कराने के लिए काफी दबाव बना रहे थे। इसके लिए अभी हाल ही में मुझसे फिर से यह मिले भी थे। बकौल प्रेस रिलीज, इस पर मायावती ने कहा था कि यह लड़की का प्रकरण है। बेहतर तो यही होगा कि यदि विवेचना में आपको न्याय नहीं मिलता है तो आप फिर कोर्ट में जाएं लेकिन ऐसा न करके यह मुझ पर ही इस केस को खत्म कराने का दबाव बना रहे थे। मेरी ओर से गलत काम न किए जाने पर ही वे नाराज होकर इस कदम को उठाने के लिए बाध्य हुए हैं।

Mayawati Raised the Issue of Reservation

READ ALSO : What are the Benefits of Drinking Fennel Milk सौंफ वाला दूध पीने के क्या है फायदे

READ ALSO : Kuch-Kuch Hota Hai रानी मुखर्जी को कुछ-कुछ होता है, में अपने रोल के बचाव में क्यों उतरना पड़ा?

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE