Thursday, May 26, 2022
HomeUttar PradeshRamnagari Ayodhya :  नवरात्र से मिलेगा रामभक्तों को सीता रसोई का प्रशाद

Ramnagari Ayodhya :  नवरात्र से मिलेगा रामभक्तों को सीता रसोई का प्रशाद

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट भगवान श्री रामलला का दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को निशुल्क भोजन की व्यवस्था बना रहा है। इनकी व्यवस्था राम नवमी से शुरू होगी।

 इंडिया न्यूज़, अयोध्या।

Ramnagari Ayodhya चेत्र नवरात्र में रामनगरी अयोध्या में राम भक्तों को सीता रसोई का प्रसाद मिलेगा। सीता रसोई से श्रद्धालुओं को रामलला का भोग लगा प्रसाद वितरित करने की तैयारियां अंतिम दौर में हैं। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट भगवान श्री रामलला का दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को निशुल्क भोजन की व्यवस्था बना रहा है। इनकी व्यवस्था राम नवमी से शुरू होगी।

(Ramnagari Ayodhya: From Navratri, Ram devotees will get the Prasad of Sita Rasoi)

रामनवमी के नौ दिवसीय उत्सव में रामनगरी में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट भक्तों को निशुल्क भोजन कराएगी। अयोध्या में भव्य मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ होने के साथ ही श्रद्धालुओं की संख्या भी दिन प्रतिदिन कई गुणा बढ़ता जा रहा है।

(Ramnagari Ayodhya: From Navratri, Ram devotees will get the Prasad of Sita Rasoi)

इसके कारण श्रीराम लला का दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं को रुकने के लिए ही नहीं बल्कि भोजन के लिए भी बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है उसको देखते हुए राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अस्थाई रूप से सीता रसोई शुरू करने की योजना बनाई है। यह योजना अभी सिर्फ रामनवमी मेले के नौ दिवसीय उत्सव तक ही सीमित रहेगी।

प्रारंभ होगा सीता रसोई की स्मृति सहेजने का काम : (The work of saving the memory of Sita Rasoi will start:)

अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर के भव्य निर्माण के साथ परिसर की प्राचीन स्मृति को भी सहेजने की तैयारी शुरू है। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण के साथ सीता रसोई स्मृति को भी सहेजने का कार्य प्रारंभ कर दिया है। सीता की रसोई वास्तव में एक शाही रसोई घर नहीं बल्कि एक मंदिर है।

(Ramnagari Ayodhya: From Navratri, Ram devotees will get the Prasad of Sita Rasoi)

यह मंदिर श्रीराम जन्मभूमि के उत्तर-पश्चिमी भाग में स्थित है। मंदिर में भगवान श्रीराम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न व उन सभी की पत्नियों सीता, उर्मिला,मांडवी और सुक्रिर्ति की मूर्ति लगी हुई हैं। यहां पर बनी रसोई में प्रतीकात्मक रसोई के बर्तन रखे हैं। जिनमें चकला और बेलन रखे है।

Read More: demonstrations : बैंक कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular