Wednesday, October 20, 2021
HomeTrendingVaibhav Arora Cricketer Biography अम्बाला ही नहीं पूरे देश का नाम रोशन...

Vaibhav Arora Cricketer Biography अम्बाला ही नहीं पूरे देश का नाम रोशन किया

Vaibhav Arora Cricketer Biography: (In this post you will read about vaibhav arora cricketer, vaibhav arora ipl price, vaibhav arora batting, vaibhav arora ambala, vaibhav arora bowling speed, vaibhav arora stats and much more.)

अम्बाला के वैभव अरोड़ा ने अम्बाला ही नहीं पूरे देश का नाम रोशन किया है। हर क्रिकेट खिलाड़ी का सपना होता है कि वह अपने गृह क्षेत्र, प्रदेश और देश का नाम रोशन करे। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है वैभव ने। इसके साथ ही यह बात भी दिगर है कि वैभव जिस परिवार से संबंध रखता है, वह बहुत ही साधारण है। ऐसे में आईपीएल तक पहुंचना आसान काम नहीं होता।

Vaibhav Arora मेहनत से ये मुकाम हासिल किया (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

Vaibhav Arora Cricketer

हम बात कर रहे हैं कोलकाता नाइटराइडर्स के दाएं हाथ के तूफानी गेंदबाज वैभव अरोड़ा की। जिसने अपनी मेहनत से ये मुकाम हासिल किया है। अम्बाला में किस्मत आजमाने के बाद उन्हें हिमाचल और चंडीगढ़ का रुख किया और उसके बाद आईपीएल में जगह बनाई। आर्थिक तंगी से परेशान होने के बावजूद वैभव ने हिम्मत नहीं हारी और अम्बाला का नाम रोशन किया।

IPL 2021 CSK vs PBKS: केएल राहुल की धुंआधार पारी ने पंजाब को दिलाई जीत, प्लेऑफ में पहुंचने के बाद चेन्नई की लगातार तीसरी हार

Vaibhav Arora अम्बाला में जन्मे, दिलचस्प है कहानी (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

Vaibhav Arora Cricketer Biography

केकेआर के घातक गेंदबाज वैभव अरोड़ा का जन्म 14 दिसम्बर, 1997 को अंबाला के एक साधारण परिवार में हुआ। वैभव के पिता गोपाल अरोड़ा दूध बेचने का व्यवसाय करते हैं। शुरू से ही वैभव को क्रिकेट में रुचि थी। स्कूल के बाद वे घर पर पिता के काम में मदद करते और दोपहर को क्रिकेट में हाथ आजमाते थे। वैभव ने बताया कि क्रिकेट से पहले उनकी रुचि स्केटिंग में थी। इसमें उन्होंने नेशनल लेवल पर ब्रॉज मेडल भी जीता है। घर के हालात ज्यादा अच्छे नहीं थे। ऐसे में स्केटिंग में आगे नहीं बढ़ सके। धीरे-धीरे उनकी रुचि क्रिकेट में हुई।

Vaibhav Arora ने गलियों में ही टेनिस बॉल के साथ क्रिकेट खेलना शुरू किया (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

Vaibhav Arora Cricketer

गलियों में ही टेनिस बॉल के साथ उन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया। वे बताते हैं कि उनके पिता ने हमेशा उनका साथ दिया और वे चाहते थे कि वे क्रिकेट में करियर बनाएं। अम्बाला में क्रिकेट के लिए अच्छी ट्रेनिंग उपलब्ध नहीं थी। इसलिए उन्हें चंडीगढ़ का रुख करना पड़ा। यहां उन्होंने क्रिकेट ट्रेनिंग लेनी शुरू की। वैभव ने बताया कि जब वे नौवीं कक्षा में थे उन्होंने चंडीगढ़ का रुख किया। इसको लेकर उनके पिता चिंतित थे, लेकिन उन्होंने वैभव का हौसला बढ़ाया। चंडीगढ़ में उन्हें रवि वर्मा कोच के रूप में मिले और उन्होंने उनसे क्रिकेट की बारिकियां सीखीं। वैभव ने बताया कि ट्रेनिंग के दौरान पंजाब से खेलने के लिए काफी ट्राई किया, लेकिन नहीं खेल सके। पंजाब उन्हें लगातार निराश करता रहा। घर के हालात इतने अच्छे नहीं थे तो उन्होंने नौकरी करने की सोची। लेकिन कोच रवि ने उनकी हिम्मत बढ़ाई।

Vaibhav Arora ने पंजाब से निराश होने के बाद वैभव ने हिमाचल में जिला टीम के लिए ट्रायल दिया (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

Vaibhav Arora Cricketer Biography

पंजाब से निराश होने के बाद वैभव ने हिमाचल में जिला टीम के लिए ट्रायल दिया। यहां उन्होंने ऐसी गेंदबाजी की कि सभी चयनकर्ता प्रभावित हो गए। चयनकर्ताओं ने उनका हुनर पहचाना और उन्हें खेलने का अवसर दिया। बस फिर क्या था वैभव ने अपनी धुआंधार गेंद से सभी के पसीने निकाल दिए। इसके बाद वैभव को साल 2019 में हिमाचल की रणजी क्रिकेट टीम में शामिल किया गया।

Vaibhav Arora ने सौराष्ट्र के खिलाफ डेब्यू मैच में तहलका मचाया (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

Vaibhav Arora Cricketer Biography

वैभव ने जब सौराष्ट्र के खिलाफ अपने डेब्यू मैच में तहलका मचाया तो हर तरफ उनकी चर्चा होने लगी। होती भी क्यों नहीं आखिरकार उन्होंने अपने डेब्यू मैच में इंडिया की दूसरी वॉल कहे जाने वाले भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को आउट किया था। वैभव ने इस मैच में कुल 9 विकेट लिए थे।

Vaibhav Arora ने 26 विकेट लेकर इतिहास रच दिया था (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

बता दें कि वैभव अरोड़ा ने अपने डेब्यू सीजन में 26 विकेट लेकर इतिहास रच दिया था। वे ऐसा करने वाले वे पहले भारतीय गेंदबाज बने थे। इसके बाद साल 2020-21 में उनका चयन सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए हुआ। उन्होंने 10 जनवरी 2021 को हुए अपने डेब्यू मैच में घातक गेंदबाजी करते हुए 4 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट हासिल किए थे. वैभव ने उस टूनार्मेंट में 6 मैच खेलकर 10 विकेट लिए थे।

Also Read : Google Maps New Feature 2021 : गूगल मैप का ये धमाकेदार फीचर, बचाएगा फ्यूल

Vaibhav Arora को ऐसे मिला आईपीएल का टिकट (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

वैभव अरोड़ा की ये मेहनत ही थी कि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करने के बाद उन्हें आईपीएल 2021 की नीलामी में 20 लाख बेस प्राइस पर केकेआर ने उन्हें खरीद कर टीम में शामिल कर लिया। बता दें कि वैभव आईपीएल में खरीदे जाने से पहले ही बतौर नेट गेंदबाज किंग्स इलेवन पंजाब की टीम के साथ जुड़ चुके थे।

Vaibhav Arora 135-140 की रफ़्तार से गेंदबाजी करते हैं (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

वैभव 135-140 की रफ़्तार से गेंदबाजी करते हैं। उनकी ताकत इनस्विंग गेंद है। वो आउटस्विंग गेंद पर भी काफी अभ्यास कर रहे हैं। वैभव बताते हैं कि वे भारतीय गेंदबाज जसप्रीत बुमराह से प्रभावित हैं।

Vaibhav Arora ने 8 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं (Vaibhav Arora Cricketer Biography)

वैभव ने अब तक 8 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 29 विकेट झटके। इन मैचों में दो बार पांच विकेट शामिल हैं। वहीं लिस्ट-अ के पांच मैचों में 8 विकेट चटका चुके हैं। इसके अलावा 6 टी-20 मैच में 10 विकेट अपने नाम किए हैं। (Read about vaibhav arora cricketer, vaibhav arora ipl price, vaibhav arora batting, vaibhav arora ambala, vaibhav arora bowling speed, vaibhav arora stats)

MG Astor 11 अक्टूबर को लॉन्च होगी MG Motors की नई मिड-साइज एसयूवी MG Astor, जानें क्या-क्या मिलेंगे फीचर्स

Also Read : Jio New Offer जिओ दे रहा है दो दिनों तक अनलिमिटेड डेटा का ऑफर, जानिए किन यूजर्स को मिलेगा फयदा

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Amit Guptahttp://indianews.in
Managing Editor @aajsamaaj , @ITVNetworkin | Author of 6 Books, Play and Novel| Workalcholic | Hate Hypocrisy | RTs aren't Endorsements
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE