Wednesday, October 27, 2021
HomeHealth TipsWhat Is Arthritis, treatment in hindi क्या है गठिया की समस्या,...

What Is Arthritis, treatment in hindi क्या है गठिया की समस्या, कैसे करें इसे दूर

What Is Arthritis, treatment in hindi जब हड्डियों के जोड़ों में यूरिक एसिड जमा हो जाता है तो वह गठिया का रूप ले लेता है। इस भयावह बीमारी से निजात पाने और इसके संक्रमण को कम करने के लिए कुछ खास तरह की जड़ी बूटियां हैं।
गठिया या अर्थराइटिस से ग्रस्त मरीजों की तादाद दिनोदिन बढ़ती जा रही है। बुजुर्ग तो इस समस्या से ग्रस्त हैं ही युवा व बच्चों में भी इस बीमारी के लक्षण देखे जा रहे हैं। जी हां 20 से 25 साल के युवा भी इस दर्दनाक बीमारी चपेट में आ रहे हैं। आपको बता दें गठिया रोग तब होता है जब शरीर में उत्पन्न यूरिक एसिड का उत्सर्जन समुचित प्रकार से नहीं होता।

क्या है गठिया या अर्थराइटिस की समस्या (What Is Arthritis, treatment in hindi)

आपको बता दें जब हड्डियों के जोड़ों में यूरिक एसिड जमा हो जाता है तो वह गठिया का रूप ले लेता है। यूरिक एसिड खानपान में बदलाव के कारण शरीर में उत्पन्न होता है। इस बीमारी के दौरान शरीर के जोड़ों में दर्द और अकड़न की समस्या उत्पन्न हो जाता है और सूजन आ जाती है। तथा रोग के बढ़ जाने पर चलने फिरने या बैठने उठने में भी परेशानी होने लगती है।

ऐसे में आज हम इस समस्या को जड़ से खत्म करने और असहाय दर्द से निजाते दिलाने के लिए कुछ जड़ी बूटियां लेकर आए हैं, जिसका सेवन कर आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

हल्दी (What Is Arthritis, treatment in hindi)

हल्दी गठिया की समस्या से निजात दिलाने के लिए रामबाण सिद्ध होता है। हल्दी में करक्यूमिन नामक एक तत्व पाया जाता है, जो अर्थराइटिस के कारण जोड़ों में होने वाले असहाय दर्द से निजात दिलाता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटी इंफ्लेमेंट्री गुण जोड़ों में सूजन कम करने में कारगार होता है।

आपको बता दें हल्दी में भरपूर मात्रा में एंटीआॅक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में यदि आप भी गठिया की समस्या से ग्रस्त हैं तो रोजाना हल्दी का सेवन करें। इसके लिए आप आधे से एक चम्मच हल्दी को गर्म दूध में मिलाकर पिएं। साथ ही दर्द और सूजन से संबंधित जगह पर गर्म हल्दी को एक कपड़े में बांधकर लपेट लें। इससे आप जल्द ही इस समस्या से निपट सकते हैं।

अदरक (What Is Arthritis, treatment in hindi)

गठिया के दर्द और सूजन से निजात दिलाने में अदरक एक कारगार उपाय है। अदरक शरीर के प्रोस्टाग्लैंडीन के स्तर को कम करता है और गठिया की समस्या से निजात दिलाने में कारगार होता है।

आपको बता दें अदरक का सेवन बाजार में मौजूद गैर-स्टेरॉडल दवाओं की तुलना में अधिक कारगार है। यह जोड़ों में दर्द से झटपट निजात दिलाता है और सूजन को कम करने में सहायक होता है।

बरडॉक रूट (What Is Arthritis, treatment in hindi)

बरडॉक रूट जिसे फॉक्स रूट के रूप में भी जाना जाता है। यह जोड़ों में दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होता है। अर्थराइटिस की समस्या से निजात पाने और इसके संक्रमण को कम करने के लिए एक दिन मे 2 से 3 बार इस जड़ का सेवन करें। आपको बता दें यह बाजार में सूखे जड़ और पाउडर के रूप में भी उपलब्ध होता है।

बिच्छू बूटी (What Is Arthritis, treatment in hindi)

इस औषधि गठिया की समस्या को जड़ से खत्म करने में कारगार उपाय है और आपके हड्डियों को फौलाद बनाता है। इसे नेटल्स प्लांट या बिछुआ पत्ती भी कहा जाता है।

यह एक तरह का पौधा होता है, जो नमी वाले स्थान पर पाया जाता है, यह आपको नदी नाले के किनारे या पहाड़ों पर अधिक मिल सकता है। इसे पीसकर दर्द से संबंधित वाले जगह पर लगाने से आप जल्द ही इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

विलो छाल (What Is Arthritis, treatment in hindi)

विलो पौधों के छाल गठिये की समस्या से निजात दिलाने में सबसे कारगार उपाय है। आपको बता दें इस पौधे की छाल का प्रयोग लंबे समय से गठिया की समस्या को दूर करने के लिए आयुर्वेद में दवाई के रूप में किया जाता रहा है।

जोड़ों में दर्द से निजात दिलाने में यह पेनकिलर का काम करता है। इस पौधे में एस्पिरिन जैसे यौगिक तत्व मौजूद होते हैं जो जोड़े में दर्द और सूजन से राहत दिलाने में कारगार होता है।

मुलेठी (What Is Arthritis, treatment in hindi)

लीकोरिस रूट जिसे हम मुलेठी के नाम से भी जानते हैं। यह ना केवल हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत कर मौसमी बीमारियों के संक्रमण से दूर रखता है बल्कि यह गठिया की समस्या से निजात दिलाने में भी कारगार उपाय है। इसके लिए आप प्रतिदिन मुलेठी का सेवन करें।

लोहबान (What Is Arthritis, treatment in hindi)

बोसवेलिया जिसे लोहबान और शल्लकी के नाम से भी जाना जाता है।  बोसवेलिया की मुख्य प्रजाती बोसवेलिया सेरेट के नाम से जानी जाती है और यह मुख्य तौर पर पंजाब में अधिक मात्रा में पाई जाती है। यह जड़ी बूटी गठिया की समस्या से निजात दिलाने और दर्द से राहत दिलाने में कारगार होता है। यह आस्टियो अर्थराइटिस के रोगियों के लिए अधिक प्रभावी होता है।

अनसारिया टोमेंटोसा (What Is Arthritis, treatment in hindi)

अनसारिया टोमेंटोसा, जिसे बिल्ली का पंजा भी कहा जाता है। यह गठिया के दर्द और सूजन से निजात दिलाने में कारगार उपाय है। इसका सेवन कर आप जोड़ो में दर्द और सूजन से झटपट राहत पा सकते हैं। यह आॅस्टियो अर्थराइटिस के दर्द और सूजन से निजात दिलाने में अधिक प्रभावी उपाय है। यदि आप इस समस्या से ग्रस्त हैं तो नियमित तौर पर इसका सेवन करें।

थंडर गॉड वाइन (What Is Arthritis, treatment in hindi)

थंडर गॉड वाइन स्वास्थ्य संबंधी बीमारियों से निजात दिलाने में अधिक कारगार जड़ी बूटी है। यह एक प्रकार का पौधा होता है, जिसकी जड़ों और पत्तों का सेवन दवाई बनाने में प्रयोग किया जाता है। यह गठिया से पीड़ित रोगियों के लिए रामबांण सिद्ध हो सकता है। परंतु इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य लें अन्यथा इसके दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करें।
आपको बता दें जड़ी बूटियों का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। डॉक्टर के दिशा निदेर्शों के अनुसार ही आप इसका सेवन करें। साथ ही जड़ी बूटियों को लेते समय उसे अच्छे से जांच परख लें अन्यथा आप जड़ी बूटी को पहाचानने में गलती कर अपने लिए बड़ी मुसीबत खड़ी कर सकते हैं।

(What Is Arthritis, treatment in hindi)
SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE