Tuesday, October 19, 2021
Homeदुनियाजापान का पीएम पद छोड़ेंगे योशिहिदे सुगा, कोरोना को रोकने में रहे...

जापान का पीएम पद छोड़ेंगे योशिहिदे सुगा, कोरोना को रोकने में रहे नाकाम!

इंडिया न्यूज, टोक्‍यो
जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने कहा है कि वह सत्तारूढ़ पार्टी के नेता के तौर पर इस महीने होने वाले रि-इल्केशन में अपनी उम्मीदवारी पेश नहीं करेंगे. इससे संकेत मिलते हैं कि सितंबर अंत तक वह जापानी पीएम के तौर पर इस्तीफा दे सकते हैं। ठीक एक साल पहले शिंजो आबे के इस्तीफे के बाद सुगा को प्रधानमंत्री के तौर पर नियुक्त किया गया था। ये हैरान करने वाला फैसला ऐसे समय पर आया है, जब सुगा की अप्रूवल रेटिंग इस समय सबसे निचले स्तर पर है। जापान वर्तमान में कोरोना की सबसे बुरी लहर का सामना कर रहा है। सार्वजनिक क्षेत्र के प्रसारक एनएचके के अनुसार सुगा ने शुक्रवार को उनकी सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) के कार्यकारी अधिकारियों को बताया कि वह पार्टी का नेतृत्व करने के लिए अपनी उम्मीदवारी पेश नहीं करेंगे, जिसके लिए 29 सितंबर को चुनाव होने हैं. इसका मतलब है कि जापान को एक नया नेता मिलेगा, जो एलडीपी के प्रमुख के रूप में चुना जाएगा। पार्टी को संसद में बहुमत प्राप्त होने के कारण उसके नेता को ही जापान का नेता चुना जाएगा। गौरतलब है कि कोरोना से निपटने के लिए तेजी से कार्रवाई ना करने और जन स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं के बावजूद ओलंपिक आयोजित करने को लेकर सुगा की देश में काफी आलोचना की जा रही है। जापान में फिलहाल आपातकाल लागू है। देश में 15 लाख से अधिक लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं और वैक्सीनेशन की रफ्तार भी काफी धीमी है। कोरोना से बिगड़े हालातों के बीच ओलंपिक गेम्स का आयोजन करना लोगों के बीच खासा अनपॉपुलर रहा। एएफपी की एक रिपोर्ट के अनुसार, सुगा की लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी (एलडीपी) के महासचिव ने कहा कि आज कार्यकारी बैठक के दौरान सुगा ने कहा है कि वह कोरोना से निपटने वाले उपायों के प्रयासों पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं और वह इस महीने पार्टी नेतृत्व के लिए होने वाले चुनावों में हिस्सा नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि मैं इस फैसले से हैरान हूं। उन्होंने अच्छा काम किया, लेकिन उन्होंने अपना फैसला कर लिया है।

 

 

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE