क्या बिरयानी खाना है फायदेमंद? अगर हाँ तो कितनी मात्रा में खाएं, इसके नुकसान को भी यहाँ जानें

India News Health: बिरयानी लवर कौन नहीं होता, वो और बात है कि किसी को वेज बिरयानी पसंद है तो किसी को नॉनवेज बिरयानी, क्या आप भी बिरयानी लवर हैं? क्‍या आप भी हफ्ते में एक बार बिरयानी जरूर खाते हैं? अगर हां, तो आइये आज आपको हम इसी बिरयानी के बारे में जानकारी देते हैं, आज हम आपको बताएँगे कि ये बिरयानी आपके लिए कितनी फायदेमंद है और इसके क्या नुकसान हैं. बिरयानी से आपको कितने पोषक तत्‍व मिलते हैं? वैसे देखा जाए, तो बिरयानी की विश्‍व भर में 25 से अधिक किस्म हैं, जिसमें वेज और नॉनवेज बिरयानी दोनों शामिल हैं। बिरयानी को सभी घरों में खूब स्वाद के साथ खाया जाता है. ये सबसे लोकप्रिय व्यंजनों में से एक माना जाता है।

पुराने समय में मुगलों की ये बिरयानी ख़ास पसंद हुआ करती थी. शाहजहाँ की बेगम मुमताज़ ने बिरयानी को पोषण में संतुलित पाया, जिसने कुपोषित मुग़ल सैनिकों को खिलाने के लिए इसके बारे में शेफ को निर्देश भी दिया था।कोई संदेह नहीं है कि बिरयानी एक संतुलित आहार में आता है और ज्यादातर पार्टियों में मुख्य रूप से परोसा जाता है।

बिरयानी से मिलने वाले फायदे

  • बिरयानी के खूब फायदे आपको इससे मिलने वाले फायदे से रूबरू कराते हैं. यह आपके शरीर को पोषण देने के लिए पोषक तत्वों के मिश्रण के साथ बनने वाला एक आसान और स्‍वाद से भरपूर व्यंजन है।
  • कई तरह के मसालों का इस्तेमाल बियानी बनाने के लिए किया जाता है. मसालों की उपयोग की वजह से बिरयानी ने वेस्टर्न रीसर्चर्स को आकर्षित किया इसमें ढेरों फायदेमंद मसालों का इस्तेमाल किया जाता है-जैसे कि हल्दी, लहसुन, अदरक, दालचीनी, लौंग। यह एंटी इंफ्लामेटरी गुणों, एंटी कैंसर, ब्‍लड शुगर को कम करने और और हृदय स्वास्थ्य को बेहतर रखने वाले गुणों से भरपूर है।
  • बिरयानी कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, विटामिन, खनिज और फाइबर जैसे पोषक तत्वों में संतुलन प्रदान करती है, जो एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए ज़रूरी है।
  • एक वेजिटेबल बिरयानी को, जब पर्याप्त मात्रा में सब्जियों के साथ पकाया जाता है, तो आपको फाइबर की सही मात्रा मिलती है।
  • एक नॉनवेज बिरयानी आपको अपने दिन के विटामिन बी 12 की आवश्यकता का प्राकृतिक स्रोत है, जो आम तौर पर शाकाहारी, नशा करने वाले लोगों में कम पाया जाता है।
  • ये तो रहे बिरयानी के फायदे, लेकिन इनका कुछ नुकसान भी है, आज हम उसके बारे में भी आपको बताएंगे।

बिरयानी के नुकसान

  • ज्‍यादातर देखा गया है कि लोग बाहर से बिरयानी खाना पसंद करते हैं, जिसमें कि अधिक मात्रा में मिलाए गए मसाले अल्सर और पेट की गड़बड़ी के जोखिम को बढ़ा सकते हैं।
    इसके अलावा, यह आपके लिवर को भी परेशान कर सकते हैं।
  • बाहर से मंगवाई गई बिरयानी में खराब या घटिया क्‍वालिटी के तेल के इस्‍तेमाल से आपकी सेहत बिगड़ सकती है, जो आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरा बन सकता है।इसीलिए आपसे सलाह है कि घर में ही पकी ताज़ी सब्जियों की बिरयानी खाएं और जो लोग नॉनवेज बिरयानी खाना पसंद कटे हैं वो भी घर पर बनी ही बिरयानी को ज़्यादा महत्त्व दें.
  • घर पर बिरयानी तैयार करना चाहते हैं, तो पनीर, मटर, मशरूम, स्प्राउट्स, दालें, नट्स, मछली, अंडा, चिकन ब्रेस्ट, सब्जियां लिमिट जोड़ने की कोशिश करें या चावल की जगह ब्राउन राइस / बाजरा / क्विनोआ का इस्‍तेमाल करें क्‍योंकि यह आपके लिए ज्‍यादा हेल्‍दी हैं.
SHARE
Latest news
Related news