होम / Modi 3.0: केंद्रीय मंत्रिमंडल में यूपी का कोटा कम लेकिन इस बात का रखा ख्याल

Modi 3.0: केंद्रीय मंत्रिमंडल में यूपी का कोटा कम लेकिन इस बात का रखा ख्याल

Sailesh Chandra • LAST UPDATED : June 11, 2024, 2:45 pm IST

India News (इंडिया न्यूज), अजय त्रिवेदी, लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अपेक्षा से मिली काफी कम सीटों के बाद केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रदेश का कोटा भले ही कम हो गया है पर जातीय समीकरणों का पूरा ध्यान रखा गया है। पिछला सरकार में जहां उत्तर प्रदेश से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित 15 मंत्री केंद्रीय मंत्रिमंडल में थे वहीं इस बार यह संख्या घटकर 11 रह गयी है।

क्षेत्रीय व जातीय संतुलन का ध्यान

केंद्रीय मंत्रीमंडल में उत्तर प्रदेश को प्रतिनिधित्व देते समय क्षेत्रीय व जातीय संतुलन का ध्यान रखा गया है और प्रदेश में 2027 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी समीकरण साधे गए हैं। इस बार के मंत्रिमंडल में जहां सात पुराने चेहरे हैं वहीं चार नए मंत्री जयंत चौधरी, जितिन प्रसाद, कमलेश पासवान और कीर्तिवर्धन सिंह शामिल किए गए हैं। पिछड़ें वर्ग में सबसे ज्यादा दो मंत्री अनुप्रिया पटेल और पंकज चौधरी कुर्मी बिरादरी से हैं वहीं बीएल वर्मा बुंदेलखंड से लोधी समाज से आते हैं।

NEET 2024 Scam: विद्यार्थियों के साथ हुआ अन्याय! एनटीए के विरोध में शुरु हुआ ABVP का प्रदर्शन

सबसे ज्यादा विधायक कुर्मी समुदाय से

उत्तर प्रदेश में इस बार सबसे ज्यादा 11 सांसद कुर्मी बिरादरी से चुन कर आए हैं जिनमें चार राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन तो सात विपक्षी इंडिया गठबंधन से हैं। इससे पहले 2022 में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भी सबसे ज्यादा विधायक कुर्मी समुदाय से ही जीत कर आए थे।

राजपूत समुदाय की नाराजगी

हाल में संपन्न हुए चुनावों में राजपूत समुदाय की नाराजगी के मद्देनजर इस समुदाय से दो मंत्री राजनाथ सिंह और कीर्तिवर्धन सिंह बनाए गए हैं। गोंडा के कीर्तिवर्धन को मंत्री बनाए जाने के पीछे एक बड़ा कारण उनका अयोध्या की पड़ोसी सीट से सांसद होना भी रहा है। हालांकि भाजपा से आठ ब्राहम्ण सांसद चुनाव जीते हैं पर मंत्री केवल एक जितिन प्रसाद को ही बनाया गया है।

Parliament Special Session: कौन होगा अगला लोकसभा अध्यक्ष? इस दिन से शुरु होगा संसद का विशेष सत्र

दलित मतो में इंडिया गठबंधन की सेंधमारी

दलित मतो में इस बार इंडिया गठबंधन की सेंधमारी को देखते हुए इस वर्ग से एसपी सिंह बघेल और कमलेश पासवान को मंत्रिमंडल में लिया गया है। जाट बिरादरी से जयंत चौधरी तो सिख समुदाय से राज्यसभा सांसद हरदीप पुरी उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। क्षेत्रीय संतुलन और हालिया चुनावी नतीजों को भी केंद्रीय मंत्रीमंडल के गठन में ध्यान में रखा गया है। अवध और पूर्वांचल जहां से भाजपा को सबसे तगड़ा झटका लगा है वहां के छह मंत्री शामिल किए गए हैं। इनमें अवध क्षेत्र से राजनाथ सिंह और कीर्तिवर्धन सिंह तो पूर्वांचल से खुद प्रधानमंत्री के साथ अपना दल की अनुप्रिया पटेल, भाजपा से पंकज चौधरी और कमलेश पासवान शामिल हैं। बुंदेलखंड के प्रतिनिधि बीएल वर्मा और रुहेलखंड से जितिन प्रसाद हैं। अलबत्ता पश्चिम से केवल सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के जयंत चौधरी को और ब्रज क्षेत्र से एसपी सिंह बघेल को ही मौका दिया गया है।

India-China Relations: जैसे को तैसा! भारत सरकार चीन के खिलाफ उठाने जा रही ये बड़ा कदम

Get Current Updates on News India, India News, News India sports, News India Health along with News India Entertainment, India Lok Sabha Election and Headlines from India and around the world.

ADVERTISEMENT

लेटेस्ट खबरें

Viral Video: बच्चे की जिद पिता पर पड़ा भारी, रोकनी पड़ी फ्लाइट; फिर हुआ कुछ ऐसा..-Indianews
Odisha Cabinet: ओडिशा में मंत्रिमंडल के विभागों की घोषणा, जानें किसे क्या मिला? -IndiaNews
Japan: जापान में फैल रहा घातक मांस खाने वाला बैक्टीरिया, 48 घंटों के भीतर बन रहा मौत का कारण -IndiaNews
Oaks Park: पोर्टलैंड ओक्स पार्क में थ्रिल राइड में खराबी के कारण 28 राइडर्स 30 मिनट तक लटके रहे उल्टा-Indianews
G7 Summit: बिडेन-पोप फ्रांसिस के माथे पर लगी चोट, अर्जेंटीना के माइली ने दी अजीब प्रतिक्रिया -IndiaNews
Israel Army: दक्षिणी गाजा में इजरायली सेना पर बड़ा हमला, मारे गए 8 सैनिक -IndiaNews
Woman Shot Dead in Jersey: अमेरिका में भारतीय मूल के शख्स ने पंजाब की दो महिलाओं पर चलाई गोली, एक की मौत-Indianews
ADVERTISEMENT