Thursday, May 26, 2022
HomeBusinessस्टील उत्पादन में 5.9 प्रतिशत की वृद्धि, विश्व के 10 बड़े उत्पादक...

स्टील उत्पादन में 5.9 प्रतिशत की वृद्धि, विश्व के 10 बड़े उत्पादक देशों में सिर्फ भारत में ही बढ़ा प्रोडक्शन

भारत में जनवरी से मार्च तक की पहली तिमाही में 3.19 करोड़ टन स्टील का उत्पादन (Steel Production) हुआ है। जोकि पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 5.9 प्रतिशत अधिक है। वहीं मार्च 2022 में 10.9 मिलियन टन उत्पादन के साथ वृद्धि की दर 4.4 प्रतिशत है।

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली:
भारत में जनवरी से मार्च तक की पहली तिमाही में 3.19 करोड़ टन स्टील का उत्पादन (Steel Production) हुआ है। जोकि पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में 5.9 प्रतिशत अधिक है। वहीं मार्च 2022 में 10.9 मिलियन टन उत्पादन के साथ वृद्धि की दर 4.4 प्रतिशत है।

इतना ही नहीं, विश्व के 10 सबसे बड़े उत्पादक देशों में केवल भारत ने जनवरी से मार्च 2022 की अवधि में उत्पादन में वृद्धि दर्ज की है। यह जानकारी विश्व स्टील एसोसिएशन (World Steel Association) ने दी है। संस्था की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक विश्व के 10 सबसे बड़े उत्पादक देशों में केवल भारत और ब्राजील ने जनवरी से मार्च की अवधि में उत्पादन में वृद्धि दर्ज की है।

भारत है दूसरा सबसे बड़ा स्टील उत्पादक देश

स्टील उत्पादन में 5.9 प्रतिशत की वृद्धि
Steel Production

बता दें कि भारत दुनिया में स्टील का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है। स्टील के सबसे बड़े उत्पादक (Steel ProductionSteel Production) चीन का मार्च,22 का उत्पादन एक साल पहले की तुलना में 6.4 प्रतिशत घट कर 8.83 करोड़ टन रहा। वहीं जापान में जनवरी-मार्च तिमाही में इस्पात का उत्पादन वार्षिक आधार पर 2.9 प्रतिशत गिर कर 2.3 करोड़ टन, अमेरिका में उत्पादन 0.4 प्रतिशत गिरकर 2.03 करोड़ टन, रूस 1.2 प्रतिशत गिर कर 1.87 करोड़ टन रहा।

दक्षिण कोरिया में 3.8 प्रतिशत गिरकर 1.69 करोड़ टन, जर्मनी में 3.7 प्रतिशत गिर कर 98 लाख टन, तुर्की में 4.7 प्रतिशत गिरकर 94 लाख टन, ब्राजील में इस्पात उत्पादन आलोच्य तिमाही में 2.2 प्रतिशत की गिरावट के साथ 85 लाख टन और ईरान में 4.4 प्रतिशत की गिरावट के साथ 69 लाख टन रहा।

केंद्रीय इस्पाद इस्पात मंत्री ने की प्रशंसा

केंद्रीय इस्पाद इस्पात मंत्री आरसीपी सिंह ने विश्व स्तर पर अनूठे प्रदर्शन के लिए भारतीय इस्पात उद्योग की प्रशंसा की और उन्हें इस श्रेष्ठ उत्पादन को 2022 में सतत बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित भी किया है। उन्होंने 2070 तक देश के कार्बन न्यूट्रल के लक्ष्य, हाइड्रोजन मिशन और ग्रीन-क्लीन स्टील को ध्यान में रख कर योजनाएं बनाने को कहा है।

यह भी पढ़ें : LIC के 3.5 फीसदी शेयर 21000 करोड़ में बेचेगी सरकार, मई के पहले हफ्ते में IPO आने की उम्मीद

यह भी पढ़ें : बैंकिंग शेयरों से बाजार पर बना दबाव, सेंसेक्स 714 अंक गिरकर 57,197 पर बंद

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular