होम / Chaitra Navratri 2024: क्या है महाअष्टमी और महानवमी की तिथि? जानें मुहूर्त और दिन का महत्व

Chaitra Navratri 2024: क्या है महाअष्टमी और महानवमी की तिथि? जानें मुहूर्त और दिन का महत्व

Simran Singh • LAST UPDATED : April 5, 2024, 7:09 pm IST

India News (इंडिया न्यूज़), Chaitra Navratri 2024, दिल्ली: इस साल 9 अप्रैल 2024 से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत हो रही है। हिंदू धर्म में नवरात्रि पर्व को काफी विशेष माना जाता है। ऐसे में इस पावन दिनों के दौरान मां दुर्गा के 9 स्वरूपों की पूजा की जाती है। नवरात्रों के 9 दिन भक्ति, व्रत और विधि विधान से माता की पूजा के लिए रखे गए हैं। पहले दिन घटस्थापना की जाती है और अखंड ज्योति को जलाया जाता है। वैसे तो नवरात्रि का हर एक दिन खास होता है, लेकिन आखिर के तीन दिन सप्तमी, महाअष्टमी और महानवमी को अधिक महत्वपूर्ण माना जाता है।

ऐसे में अष्टमी और नवमी के दिन ही घरों में पूजा, हवन और कन्या पूजन धर्म अनुष्ठानों को किया जाता है। जिसमें लोग 9 दोनों का व्रत रख अष्टमी-नवमी पर पारण करते हैं। ऐसे में आज की रिपोर्ट में हम आपको महाअष्टमी और महानवमी की तिथि, मुहूर्त और महत्व के बारे में बताएंगे।

  • कब है महाअष्टमी और महानवमी?
  • ये है मुहूर्त का समय
  • जानें क्या है दिन का महत्व

10 अप्रैल को होगी Ajay और Akshay की बड़ी टक्कर, फिल्म की रिलीज से पहले खिलाड़ी ने शेयर की पोस्ट

चैत्र नवरात्रि 2024 अष्टमी तिथि

हर साल की चैत्र नवरात्रि के आठवें दिन महाअष्टमी होती है। जिस दिन मां महागौरी की पूजा किया जाता है। इस बार चैत्र शुक्ल अष्टमी की तिथि 15 अप्रैल 2024 को दोपहर 12:11 से शुरू होगी और 16 अप्रैल 2024 को दोपहर 1:30 पर समाप्त होगी। ऐसे में नवरात्रि में महाअष्टमी को 16 अप्रैल 2024 को मनाया जाएगा। Chaitra Navratri 2024

इस अंदाज में Kajol ने किया Ajay Devgn को बर्थडे विश, खास तस्वीर की शेयर

चैत्र नवरात्रि 2024 की नवमी तिथि Chaitra Navratri 2024

इस बार की चैत्र शुक्ल की नवमी तिथि 16 अप्रैल को दोपहर 1:30 से शुरू होगी जो 17 अप्रैल 2024 को दोपहर 3:14 तक रहेगी। ऐसे में नवरात्रि की महानवमी पर रामनवमी यानी प्रभु श्री राम का जन्मोत्सव मनाया जाता है। Chaitra Navratri 2024

India News Aaj Ka Rashifal: आज पांच राशियों का खुलेगा भाग्य, गणेशजी की होगी आपके उपर कृपा

महाअष्टमी और महानवमी का महत्व Chaitra Navratri 2024

अष्टमी और नवमी का काफी महत्व होता है। अष्टमी और नवमी को कन्या पूजन, हवन और व्रत का पारण किया जाता है। यदि कोई नवरात्रि की व्रत रख पूजा करता है तो अष्टमी और नवमी पर उसकी पूजा सफल होती है और माता रानी से आशीर्वाद मिलता है।

लेटेस्ट खबरें

Turkey-Hamas Relations: इजरायल के साथ युद्ध के बीच हमास प्रमुख करेंगे तुर्की का दौरा, तुर्की के राष्ट्रपति ने दी जानकारी
US-Italy Relations: अमेरिका-इटली आए एक साथ, गलत सूचना के प्रसार को रोकने के लिए साथ में करेंगे काम
NABARD Recruitment 2024: NABARD में निकला जॉब करने का सुनहरा मौका, 100000 की सैलरी वाली नौकरी के लिए यहां करें आवेदन
Salman Khan Firing Case: बांद्रा में शूटिंग से कुछ घंटे पहले ही आरोपियों को दी गई थी बंदूक, सलमान खान केस में बड़ा खुलासा
महिंद्रा थार को टक्कर देने आ रही Jeep की मिनी एसयूवी, लुक और फीचर्स देख चौंक जाएंगे आप
Indonesia Volcano: इंडोनेशिया का रुआंग ज्वालामुखी का वीडियो वायरल, उगल रहा है लाल राख, लावा और धुआं
किताब जैसा Laptop, धमाकेदार के फीचर्स के साथ कमाल का प्रोसेसर