होम / Modi 3.0: सेंट्रल हॉल का संदेश, एक देश एक चुनाव भी होगा और पीओके भी लेंगे

Modi 3.0: सेंट्रल हॉल का संदेश, एक देश एक चुनाव भी होगा और पीओके भी लेंगे

Sailesh Chandra • LAST UPDATED : June 8, 2024, 11:29 am IST

India News (इंडिया न्यूज), अजीत मेंदोला, नई दिल्ली: संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद कार्यवाहक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के केंद्रीय कक्ष में दिए भाषण ने भविष्य की राजनीति के बहुत कुछ संकेत दे दिए हैं। जेडीयू नेता नीतीश कुमार और टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू ने जिस तरह का भाषण दिया उससे इतना तो तय हो गया कि राजग सरकार पूरे पांच साल तो मजबूती से चलेगी ही मोदी अपने सभी एजेंडे भी पूरे करेंगे।

यूं कह सकते हैं कि मोदी के एक देश एक चुनाव और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को वापस लाने जैसे एजेंडे में राजग पूरा साथ देगा।इसलिए कार्यवाहक प्रधानमंत्री मोदी का हाव भाव पूरी तरह से बदला हुआ था ।आत्मविश्वास से लवरेज मोदी के चेहरे पर मुस्कान थी।सहयोगियों से खूब हंस हंस कर बात करते दिखे।आज के सेंट्रल हॉल के नजारे ने एक बार फिर देशभर के भाजपा के कार्यकर्ताओं में नए जोश का संचार कर दिया।

जनता की अदालत में फेल हुए दलबदलू नेता, 76 में से एक तिहाई ही बन पाए सांसद

मोदी ने अपने भाषण में कांग्रेस और पूरे विपक्ष पर तो निशाना साधा ही साथ ही साफ कर दिया 2029 में राजग फिर भारी बहुमत से जीतेगा।एक तरह से उन्होंने इशारे ही इशारे में संकेत दे दिए कि वह बहुत कुछ ऐसा करने वाले हैं जिससे विपक्ष आने वाले पांच साल में पूरी तरह से पस्त हो जायेगा।फिर वह 29 में हार के बाद ईवीएम पर सवाल उठाएगा। इसमें कोई दो राय नहीं है कि इस बार विपक्ष परिणाम आने से पहले तक ईवीएम पर ही सवाल उठाने लगा था।

कांग्रेस ने तो बकायदा देशभर में प्रदर्शन की तैयारी की हुई थी।लेकिन परिणामों के विपक्ष को अपनी सोच में बदलाव लाना पड़ा।बड़े बड़े वकील अभिषेक मनु सिंघवी और कपिल सिब्बल तो समझा भी रहे थे ईवीएम में कैसे छेड़ छाड़ हो सकती है।विपक्ष ने चुनाव आयोग से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक चक्कर काटने में कोई कमी नहीं रखी।विपक्ष एक तरह से मान बैठा था कि चुनाव निष्पक्ष नहीं होंगे।इसी पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी नाराजगी जताई और कहा विपक्ष कैसी सोच रखता है।

Lok Sabha Election 2024: महज 25 साल की उम्र में बन गए ये युवा सांसद… इस पार्टी से दो नाम शामिल

जेडीयू नेता और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने छोटे भाषण में बहुत सारे संदेश दे दिए।इंडी गठबंधन पर तो तंज कसा ही लेकिन सबसे बड़ी बात मोदी को लेकर कही।नीतीश का यह कहना आप तुरंत शपथ लें और अपने काम को शुरू करे।हम हर फैसले में साथ हैं। नीतीश ने जिस तरह से पीएम के पैर छू सम्मान दिया इसके बाद साफ हो गया नीतीश वाकई अब राजग के साथ मजबूती से खड़े रहेंगे। विपक्ष कितनी भी अफवाह फैला ले टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू ने तो मोदी के दस साल के कार्यकाल की जिस तरह तारीफ की उससे भी विपक्ष को बड़ा संदेश चला गया कि वह पूरी तरह से मोदी मय बन गए हैं और कहीं नहीं जाने वाले हैं।

Lok Sabha Election: पंजाब में सबसे अधिक मार्जिन से जीतने वाले अमृतपाल की पत्नी पहुंची डिब्रूगढ़

आंध्र के ही एक और सहयोगी पवन कल्याण ने तो नायडू का जिक्र कर बताया कि वह मोदी के प्रति कितना सम्मान रखते हैं।सबसे ज्यादा प्रभावित किया लोजपा नेता चिराग पासवान ने।उनके छोटे से भाषण में पूरी तरह से मोदी के मन की बात थी।भाषण के बाद मोदी ने उन्हे जिस तरह गले लगाया उससे साफ था कि बात दिल तक गई है।

सेंट्रल हॉल के आज के माहौल से इतना तय है कि मोदी प्रधानमंत्री पद की तीसरी बार शपथ लेते ही कई अहम फैसले कर सकते हैं।जेडीयू की तरफ से केवल अग्निवीर योजना पर पुनर्विचार की बात की है।ऐसा समझा जा रहा है कि इस योजना और किसानों के मामलों पर मोदी अहम फैसले कर सकते है।क्योंकि चार माह बाद महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा के चुनाव होने हैं।जहां पर बीजेपी को झटका लगा है।

Rahul Gandhi: राहुल करेंगे विपक्षी दल का नेतृत्व? जानें किस पर निर्भर करता है फैसला

Get Current Updates on News India, India News, News India sports, News India Health along with News India Entertainment, India Lok Sabha Election and Headlines from India and around the world.

ADVERTISEMENT

लेटेस्ट खबरें

ADVERTISEMENT