Tuesday, May 24, 2022
HomeRajasthanनशीला पदार्थ देकर जंगल में दोस्त को जिन्दा जलाया

नशीला पदार्थ देकर जंगल में दोस्त को जिन्दा जलाया

सीएम गहलोत के गृह नगर जोधपुर की पुलिस के सामने एक पिता सबूतों के साथ बेटे के अपहरण पर कार्रवाई को गिड़गिड़ाता रहा। लेकिन पुलिस ने कार्रवाई तो छोड़ो एफआईआर भी दर्ज नहीं की।

इंडिया न्यूज़, जोधपुर।

सीएम गहलोत के गृह नगर जोधपुर की पुलिस के सामने एक पिता सबूतों के साथ बेटे के अपहरण पर कार्रवाई को गिड़गिड़ाता रहा। लेकिन पुलिस ने कार्रवाई तो छोड़ो एफआईआर भी दर्ज नहीं की। इस बीच पिता 500 किलोमीटर तक अपने बेटे की तलाश में घूमता रहा, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी, बेटे का अपहरण करने वाले युवक ने जोधपुर से उदयपुर के जंगलों में हत्या कर शव को जला दिया।

ये भी पढ़ें: महंगाई डायन खाय जात है, नींबू मिर्ची को लगी नजर

अनिल सोनी का अपहरण बुधवार रात 8 बजे हो गया। अनिल सोनी अपनी ज्वेलर्स की दुकान पर काम कर रहा था, इसी बीच उसके राजू नाम के दोस्त ने नशीला पदार्थ पिलाकर उसका अपहरण कर लिया। अनिल सोनी के पास 30 लाख की ज्वेलरी थी, वह ज्वेलरी संग उसी की कार से अपहरण कर ले गया। राजू कार से पाली की तरफ जा ही रहा था कि टोल नाके से निकलने के बाद अनिल सोनी के पिता के मोबाइल नम्बर पर फास्टेग से पैसे कटने का मैसेज आ गया। अनिल ने पिता भवरलाल सोनी ने तुरंत अनिल को फोन किया, लेकिन बात नही होने पर वो तत्काल दुकान पर पहुंचे।

ये भी पढ़ें :  31 मार्च तक 5 साल की आयु के हो चुके बच्चों को आरटीई के तहत स्कूलों में मिलेगा प्रवेश

ज्वेलरी के साथ बेटे को राजू के ले जाने की जानकारी मिलते ही पिता तुरंत बोरानाडा पुलिस थाने पहुंचे। लेकिन पुलिस ने एफआईआर तो छोड़ो अनिल को तलाशने पर आनाकानी करते रहे। पुलिस द्वारा गंभीरता नहीं दिखाने पर पिता खुद जोधपुर से 500 किलोमीटर तक कार लेकर बेटे की तलाश करते रहे, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। जोधपुर पुलिस के पास उदयपुर पुलिस का फोन आया और बताया गया कि उदयपुर के सायरा के जंगलों में जली हुई अवस्था में शव मिला है। इसके बाद सामने आया कि अपहरण करने वाला राजू नाम का दोस्त सायरा के जंगल में अनिल की हत्या कर शव को जलाकर फरार हो गया।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे !

 Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular