Monday, January 24, 2022
HomeNationalIndia China Pangong Tso lake Dispute in 2022 चीन पैंगोंग त्सो लेक...

India China Pangong Tso lake Dispute in 2022 चीन पैंगोंग त्सो लेक के अपने हिस्से में बना रहा ब्रिज

इंडिया न्यूज, नई दिल्ली :
India China Pangong Tso lake Dispute in 2022 :
चीनी सेना की नई हरकत के बारे में जानकारी सामने आई है। चीन की सेना पैंगोंग त्सो लेक में अपनी तरफ वाले हिस्से पर एक पुल बना रही है। मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार इस ब्रिज के बनने से चीनी सेना भारत की सीमा के नजदीक काफी तेजी से पहुंच सकती है।

जानकारी के अनुसार अगर चीनी सेना को भारतीय सीमा तक पहुंचना हो तो उसे 200 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ता है। वहीं अगर चीन यह ब्रिज बना लेता है तो उसका सफर आधे से भी कम हो जाएगा। ब्रिज बनने के बाद चीनी सैनिकों को भारत तक पहुंचने के लिए सिर्फ 40 से 50 किलोमीटर का सफर तय करना पड़ेगा।

जिसके लिए उसे सिर्फ 2 घंटे का समय लगेगा जो पहले 8 से 9 घंटे था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन की सेना इस पुल को खुर्नाक एरिया में बना रहा है। सैटेलाइट से देखने पर इस ब्रिज को बनाने के बारे में पता चलता है।

अभी बन रहा है ब्रिज India China Pangong Tso lake Dispute in 2022

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अभी चीन की तरफ से इस ब्रिज को बनाने का काम किया जा रहा है। वहीं यह भी जानकारी मिली है कि चीन यह ब्रिज भारतीय सेना को रोकने के लिए कर रहा है। दरअसल 2020 में भारत की सेना ने चीन की आर्मी को पीछे धकेल कर पैंगोंग लेक के दक्षिण वाले एरिया में पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया था।

उसका बदला लेने के लिए चीन इस पुल का निर्माण कर रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अभी यह ब्रिज अंडर कंस्ट्रक्ट है। यह पुल चीनी सेना को भारत तक जल्द पहुंचने में मदद करेगा।

ब्रिज के सभी हिस्से तैयार, जोड़ने का काम बाकी India China Pangong Tso lake Dispute in 2022

खुफिया सूत्रों के मुताबिक झील के समीप का यह हिस्सा काफी संकरा है। यहां से निकलने में काफी समय लग जाता है। ब्रिज बन जाने से भारतीय सीमा चीन की रेंज में आ जाएगी।

वहीं यह भी जानकारी मिली है कि चीन ने इस ब्रिज के सभी पार्ट्स को तैयार कर लिया है और उन्हें जोड़ने का काम किया जाना है। अगर इस हिस्से के विवाद की बात करें तो पैंगोंग त्सो लेक के कारण भारत और चीन कई बार आमने आ चुके हैं।

इस लेक का एरिया 135 किलोमीेटर है। जिसका कुछ हिस्सा लद्दाख और तिब्बत में भी आता है। इस पुल के अलावा चीन इस एरिया में कुछ सड़कें भी बना रहा है। जिसकी मदद से चीनी सैनिक और हथियार सीमा तक जल्दी पहुंच सकते हैं। India China Pangong Tso lake Dispute in 2022

Read More : India China Dispute चीन ने सीमा के पास तैनात किए लॉन्ग रेंज मिसाइलों से लैस बाम्बर प्लेन, इनकी जद में आती है दिल्ली

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE