Wednesday, October 20, 2021
HomeनेशनलAryan Khan Drug Case : एनसीबी ने नकारे सभी आरोप

Aryan Khan Drug Case : एनसीबी ने नकारे सभी आरोप

इंडिया न्यूज, मुंबई:

Aryan Khan Drug Case : मुंबई क्रूज रेड को लेकर एनसीबी पर राजनीतिक पार्टियां व बॉलीवुड सितारे लगातार सवाल उठा रहे हैं। बॉलीवुड सितारे जहां आर्यन खान को मासूम और निर्दोष बताने की कोशिश कर रहे हैं वहीं राजनीतिक पार्टियां इस केस में भाजपा को जोड़ रहीं है। शनिवार को महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने एनसीबी से सवाल किया है

कि मुंबई तट पर एक क्रूज जहाज पर छापेमारी के बाद एनसीबी के समीर वानखेड़े ने कहा था कि 8-10 लोगों को हिरासत में लिया गया है। सच्चाई यह है कि 11 लोगों को हिरासत में लिया गया था। बाद में तीन लोग- ऋषभ सचदेवा, प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला को रिहा क्यों कर दिया गया।

सभी आरोप बेबुनियाद : एनसीबी (Aryan Khan Drug Case)

मामले में एनसीबी ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया है। एनसीबी का कहना है कि पूरी कार्रवाई बिना किसी राजनीतिक दबाव के और पारदर्शी तरीके से की गई है। प्रेसवार्ता के दौरान एनसीबी अधिकारी ने कहा कि राकांपा नेता की ओर से लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने बताया कि एनसीबी अपने इंटेलिजेंस व पब्लिक से मिली सूचना के आधार पर कार्रवाई करती है।

सूचना के आधार पर की थी रेड (Aryan Khan Drug Case)

ऐसी ही एक सूचना के आधार पर क्रूज शिप पर दो अक्तूबर को रेड की गई थी, जिसमें आठ लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। एनसीबी ने बताया कि उनके पास से ड्रग्स के साथ एक लाख 35 हजार रुपऐ भी बरामद हुए थे। एनसीबी ने बताया कि किसी भी कार्रवाई से पहले हमें गवाह के तौर पर लोगों को शामिल करना होता है। क्रूज शिप पर हुई रेड में नौ स्वतंत्र गवाह बनाए गए थे, जिसमें मनीष भानुशाली और केपी गोसावी भी थे।

उन्होंने दावा किया कि इस रेड से पहले एनसीबी उन गवाहों को जानती नहीं थी। एनसीबी ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि दो अक्तूबर की रात हुई रेड के बाद कुल 14 लोगों को एनसीबी दफ्तर में लाया गया था। पूछताछ के बाद छह लोगों को छोड़ दिया गया था। (Aryan Khan Drug Case)

Also Read : Denmark’s PM Arrives In Delhi : तीन दिवसीय दौरे पर दिल्ली पहुंची डेनमार्क की प्रधानमंत्री

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Sameer Sainihttp://indianews.in
Sub Editor @indianews | Quick learner with “can do” attitude | Have good organizing and management skills
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE