Tuesday, January 18, 2022
HomeFestivalsLohri Festival 2022 जनवरी 13 को मनाएं लोहड़ी सायं 5 बजे, पुत्रदा...

Lohri Festival 2022 जनवरी 13 को मनाएं लोहड़ी सायं 5 बजे, पुत्रदा एकादशी का रखें व्रत

Lohri Festival 2022 जनवरी 13 को मनाएं लोहड़ी सायं 5 बजे, पुत्रदा एकादशी का रखें व्रत

मदन गुप्ता सपाटू, ज्योतिर्विद

Lohri Festival 2022 लोहड़ी परंपरागत रूप से रबी फसलों की फसल से जुड़ा हुआ है और यह किसान परिवारों में सबसे बड़ा उत्सव भी है। पंजाबी किसान लोहड़ी के बाद भी वित्तीय नए साल के रूप में देखते हैं। कुछ का मानना है कि लोहड़ी ने अपना नाम लिया है, कबीर की पत्नी लोई, ग्रामीण पंजाब में लोहड़ी लोही है।
मुख्यतः पंजाब का पर्व होने से इसके नाम के पीछे कई तर्क दिए जाते हैं। ल का अर्थ लकड़ी है, ओह का अर्थ गोहा यानी उपले, और ड़ी का मतलब रेवड़ी । तीनों अर्थों को मिला कर लोहड़ी बना है।

अग्नि प्रज्जवलन का शुभ मुहूर्त
वीरवार की सायंकाल 5 बजे से रोहिणी नक्षत्र आरंभ हो जाएगा। लकड़ियां, समिधा, रेवड़ियां, तिल आदि सहित अग्नि प्रदीप्त करके अग्नि पूजन के रुप में लोहड़ी का पर्व मनाएं रात्रि तक।
संपूर्ण भारत में लोहड़ी का पर्व धार्मिक आस्था, ऋतु परिवर्तन, कृषि उत्पादन, सामाजिक औचित्य से जुड़ा है। पंजाब में यह कृषि में रबी फसल से संबंधित है, मौसम परिवर्तन का सूचक तथा आपसी सौहार्द्र का परिचायक है।

सायंकाल लोहड़ी जलाने का अर्थ (Lohri Festival 2022)

सायंकाल लोहड़ी जलाने का अर्थ है कि अगले दिन सूर्य का मकर राशि में प्रवेश पर उसका स्वागत करना। सामूहिक रुप से आग जलाकर सर्दी भगाना और मूंगफली , तिल, गज्जक , रेवड़ी खाकर शरीर को सर्दी के मौसम में अधिक समर्थ बनाना ही लोहड़ी मनाने का उद्देश्य है।

आधुनिक समाज में लोहड़ी उन परिवारों को सड़क पर आने को मजबूर करती है जिनके दर्शन पूरे वर्ष नहीं होते। रेवड़ी मूंगफली का आदान प्रदान किया जाता है। इस तरह सामाजिक मेल-जोल में इस त्योहार का महत्वपूर्ण योगदान है।

(Lohri Festival 2022)

इसके अलावा कृषक समाज में नव वर्ष भी आरंभ हो रहा है। परिवार में गत वर्ष नए शिशु के आगमन या विवाह के बाद पहली लोहड़ी पर जश्न मनाने का भी यह अवसर है। दुल्ला भटटी की सांस्कृतिक धरोहर को संजो रखने का मौका है। बढ़ते हुए अश्लील गीतों के युग में ‘सुंदर मुंदरिए हो ’ जैसा लोक गीत सुनना बचपन की यादें ताजा करने का समय।
आयुर्वेद के दृष्टिकोण से जब तिल युक्त आग जलती है, वातावरण में बहुत सा संक्रमण समाप्त हो जाता है और परिक्रमा करने से शरीर में गति आती है । गावों मे आज भी लोहड़ी के समय सरसों का साग, मक्की की रोटी अतिथियों को परोस कर उनका स्वागत किया जाता है।

(Lohri Festival 2022)

Read Also: Happy Lohri 2022 Wishes for Girlfriend

किंवदंतियों के अनुसार लोहड़ी की उत्पत्ति दुल्ला भट्टी से संबंधित है। जिसे पंजाब के “रॉबिन हुड” के रूप में जाना जाता है। वह मुगल शासन के दौरान पंजाब का सबसे बड़ा मुस्लिम डाकू था। वह अमीर से लूट गया और इसे गरीबों के बीच वितरित किया।

उन्होंने कई हिंदू पंजाबी लड़कियों को भी बचाया जिन्हें जबरन बाजार में बेचने के लिए लिया जा रहा था। हिंदू अनुष्ठानों के अनुसार और उन्हें दहेज प्रदान किया लाहौर में उनके सार्वजनिक निष्पादन के बाद अपने उद्धारकर्ता की याद में लड़कियों ने गाने गाए और बोनफायर के आसपास नृत्य किया।
यह उस दिन से पंजाब की परंपरा थी और हर साल पंजाब में लोहड़ी के रूप में गर्व से मनाया जाता था। तो हर लोहड़ी गीतों में दुल्ला भट्टी के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करना है।

पुत्रदा एकादशी व्रत (Lohri Festival 2022)

हिंदू धर्म में एकादशी व्रत का विशेष महत्व है। एकादशी तिथि भगवान विष्णु को समर्पित होती है। मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु के साथ माता लक्ष्मी की पूजा करने से सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है। श्रीहरि की कृपा से भक्तों की मनोकामना पूरी होने की भी मान्यता है।
पौष पुत्रदा एकादशी 13 जनवरी, 2022 को है। पौष पुत्रदा एकादशी की तिथि 12 जनवरी को शाम में 04 बजकर 49 मिनट पर शुरू होकर 13 जनवरी को शाम में 7 बजकर 32 मिनट पर समाप्त होगी।

पुत्रदा एकादशी महत्व (Lohri Festival 2022)

संतान की लंबी आयु और संतान प्राप्ति की कामना करने वाली महिलाएं पुत्रदा एकादशी के व्रत को करती हैं। पुत्रदा एकादशी को साल में दो बार आती है। साल की पहली पुत्रदा एकादशी को पौष पुत्रदा एकादशी या पौष शुक्ल पुत्रदा एकादशी कहते हैं। यह एकादशी दिसंबर या जनवरी महीने में आती है। दूसरी पुत्रदा एकादशी को श्रावण पुत्रदा एकादशी कहते हैं। यह जुलाई या अगस्त के महीने में आती है।

Lohri wishes for newborn baby girl and boy in hindi

Wishing a very Happy Lohri to you little one. May this festive occasion bless you with good health and lots of happiness.

Warm wishes on the occasion of Lohri to you. I wish that Almighty shower you with eternal happiness and lots of good luck.

Lohri Message for Baby Boy in Hindi

Baby boy ko Lohri ke hardik shubhkamnaye. Is pehle Lohri uske liye khushali laye aur who nache gaye khushiya manaye parivar ke saath.

Lohri ke dher saare shubhkamnaye baby boy ko. Pehli Lohri yaadgar ko aur uske jeevan mein khushali aur dhero rang aaye hamesha.

Baby boy ko both pyar aur Lohri ke shubhkamnaye. Uske liye pyar bhare gifts Lohir mein aur aasha karti hu ki jeevan khushiyon se bhar jaaye

Pehli Lohri ked hero shubhkamnaye. Baby boy ka yeh Lohri pyar bhara ho aur who bohot jhume khushali manaye is Lohri.

Bohot pyar aur hardik shubhkamnaye baby boy Lohri mein. Pakwan ki khushbo uske pehli Lohri acchi banaye aur apno ka pyar mile use hamesha

Lohri Wishes Messages for Baby Girl in Hindi

Baby girl ko hardi shubhkamnaye Lohri mein. Acchi acchi pakwan uske Lohri yaadgar banaye aur usko hamesha sab ka pyar mile.

Pehli Lohri baby girl ko dhero pyar aur shubhkamnaye. Uske jeevan khushali ho hamesha aur who jashn manaye pehli Lohri mein.

Is Lohri dhero pyar aur bohot saari shubhkamnaye baby girl ko. Uske jeevan khushali ho hamesha aur Lohri mein dhero pakwan jam ke khaye who.

Pehli Lohri ked hero shubhkamnaye baby girl ko. Uske liye bohot pyar aur dhero gifts Lohri mein khelne ke liye.

Bohot bohot pyar aur dhero shubhkamnaye Lohri mein baby girl ko. Tasty pakwan se khil uthe uska Lohri aur who bohot jashn manaye is saal.

First Lohri Baby Wishes

To the new born baby, I send my heartiest first Lohri baby wishes and greetings for a splendid Lohri celebration. I hope the baby enjoys the delicious feasting and merriment with loved ones.

Beautiful Lohri wishes for baby girl with all love. let the first Lohri baby wishes make her day special and I send gifts for her to enjoy the celebration of harvest and enjoyment.

I send beautiful first Lohri baby messages for the cute gentleman. I pray you have a superb Lohri celebration with parents and loved ones celebrating and joining in the fun and merriment.

I send first lohri baby wishes with all my heart. Let us all together celebrate the joyous festival of Lohri celebrating and rejoicing in front of bonfires and making merry together.

Read Also: Happy Lohri 2022 Wishes to Family and Friends

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

SHARE

Mukta
Sub-Editor at India News, 7 years work experience in punjab kesari as a sub editor, I love my work and like to work honestly
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE