Tuesday, November 30, 2021
HomeHealthHow to Reduce Liver Disease Risk मोटापा कम करने वाली सर्जरी से...

How to Reduce Liver Disease Risk मोटापा कम करने वाली सर्जरी से लिवर की बीमारी का खतरा 90% हो जाता है कम

How to Reduce Liver Disease Risk हमारे शरीर में लीवर का काम खाने और अन्य चीजों को प्रोसेस करना है। जब लीवर की कोशिकाओं में वसा अधिक मात्रा में बनने लगती है तो इसी को फैटी लीवर कहते हैं। फैटी लीवर की बीमारी दो तरह की होती है। एल्कोहलिक और नॉन-एल्कोहलिक। एल्कोहलिक फैटी लिवर ज्यादा शराब पीने से होता है। लेकिन नॉन-एल्कोहलिक फैटी लिवर का शराब से कोई लेना-देना नहीं है। फैटी लिवर की प्रॉब्लम ज्यादातर मोटापे के शिकार, डायबिटीज टाइप-2 के रोगियों, हाई कोलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर वाले रोगियों को ही अधिक होती है। (How to Reduce Liver Disease Risk)

अभी तक फैटी लिवर का कोई इलाज नहीं है। लेकिन अपनी लाइफस्टाइल और खानपान में बदलाव करके आप फैटी लिवर की समस्या से निजात पा सकते हैं। लेकिन अब एक ताजा शोध में दावा किया गया है कि बैरियाट्रिक सर्जरी के जरिए फैटी लिवर जैसी जानलेवा बीमारियों के रिस्क को कम किया जा सकता है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, हर चार में से एक अमेरिकी वयस्क शराब पीने के कारण नहीं बल्कि मोटापे के कारण यकृत बढ़ जाना यानी फैटी लिवर की गंभीर बीमारी से ग्रस्त है। ‘जर्नल ऑफ द अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन’ यानी जामा में प्रकाशित स्टडी के अनुसार, बैरियाट्रिक सर्जरी से मोटापे से तो निजात मिलती है, साथ ही इसका एक बड़ा फायदा होता है कि इससे फैटी लिवर और लिवर कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का खतरा भी काफी हद तक कम होता है। (How to Reduce Liver Disease Risk)

स्टडी में क्या निकला (How to Reduce Liver Disease Risk)

जामा में प्रकाशित इस स्टडी में 1158 उन लोगों को शामिल किया गया,  जिन्होंने फैटी लिवर की बीमारी के चलते बैरियाट्रिक सर्जरी कराई हुई थी। इसमें सामने आया कि सर्जरी कराने वाले 650 लोगों में से केवल 5 लोगों को ही बाद में लिवर की गंभीर बीमारी हुई। वहीं सर्जरी नहीं कराने वाले 508 में से 40 लोगों को लिवर की गंभीर बीमारियां हुईं। इसका निष्कर्ष ये निकला कि सर्जरी कराने के अगले 10 साल तक इन लोगों में लिवर कैंसर और लिवर संबंधी अन्य गंभीर बीमारियों का खतरा 90 फीसदी तक कम हो गया।

हार्ट अटैक की आशंका भी 70% कम हुई (How to Reduce Liver Disease Risk)

इस अध्ययन में सामने आया कि बैरियाट्रिक सर्जरी  से मोटापे के कारण हार्ट अटैक की आशंका में भी 70 फीसदी तक की कमी आती है। इस रिसर्च को लीड करने वाले डॉ अली अमिनियन का कहना है कि मोटापे के कारण फैटी लिवर की समस्या सामने आती है। लिवर पर ज्यादा मात्रा में फैट जमा हो जाता है। इससे लिवर में जलन होती है और स्कार टिश्यू पैदा हो जाते हैं। इससे आगे चलकर लिवर सिरोसिस जैसी जानलेवा बीमारी पैदा होती है। मरीज के शरीर का वजन कम होने पर लिवर से भी फैट कम होता है। (How to Reduce Liver Disease Risk)

Also Read : Amazing Health Benefits Of Peanut In Hindi

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Sameer Sainihttp://indianews.in
Sub Editor @indianews | Quick learner with “can do” attitude | Have good organizing and management skills
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE