Friday, December 3, 2021
HomeHealthWhat is Yoga or What is Yoga Called योग क्या है या...

What is Yoga or What is Yoga Called योग क्या है या योग किसे कहते है

What is Yoga or What is Yoga Called : योग एक जिने का विज्ञान है इसलिए इसे दैनिक जीवन मे शामिल होना चाहिए। इसे संस्कृत मे युज कहा जाता है। जिसका मतजब होता है जुड़ना। यह हमारे शरीर को चुस्त और तंदरूस्त रखता है। यह हमारे मन तथा भांवनाओ को संतुलित करके रखता है। कई लोगो की यादाश्त कमजोर होती है उनके लिए योग बहुत लाभ दायक होता है।

योग कई शारीरिक समस्याओ को भी दूर करता है। इसके अलावा योग के कई लाभ है। जिनको स्पष्ट करना आसान नही है। क्योकि वह स्ंवय आभियास करके हासिल या फिर महसूस करना होगा। योग कई प्रकार के होते है जैसे कि ज्ञान योग,भक्ति योग,राज योग आदि। इसके इलावा एक अष्टांग योग भी होता है।

अष्टांग योग क्या है? What is Yoga or What is Yoga Called

अष्टांग योग आठ प्रकार के होते है। अष्टांग योग हमारे ऋषि मुनियो ने योग के द्वारा शरीर मन और प्राण की शुद्धि तथा परमात्मा की प्रप्ति के लिए यह आठ योग है। जिसे वह अष्टांग योग कहते है,आसन , समाधि,नियम,प्राणायाम,धारणा,प्रात्याहार,ध्यान,यम।

What is Yoga or What is Yoga Called

अष्टांग योग को आप घर बैठे आसानी से कर सकते है। और अपने जीवन को निरोग बना सकते है। यह आपके शरीर के लिए लाभ दायक है। योग के जानकार एलडी उपाध्याय के अनुसार कुछ ऐसे आंसन और प्राणायाम भी है। इससे आप अपने मन और शरीर को शांत और सुख से रख सकते है।

वर्तमान मे बत्तीस आसनो को ही प्रमुख माना गया है। जब की शास्त्रो के अनुासार चौरासी लाख आसंन मोजूद है यह सभी आसन जीव-जंतुओ के नाम पर आधरित है। इन आसनो के बारे मे ज्यादा तर लोग नही जानते इसलिए वह चौरासी लाख आसनो को प्रमुख माना गया है। आसन दो प्रकार के होते है। स्थिर आसन हौर गतिशील आसन।

What is Yoga or What is Yoga Called

READ ALSO : How to Color Hair with Herbal Indigo Powder हर्बल इंडिगो पाउडर से बालों को कलर कैसे करें

गतिशील आसन:- वे आसन है जिनमे शरीरिक शांति के साथ गतिशील रहता है।

स्थिर आसन:-वे आसन है जिनमे अभ्यास को शरीर मे बहुत ही कम या बिना गति के किया जाता है।

सर्वागासन What is Yoga or What is Yoga Called

What is Yoga or What is Yoga Called

दरी या कभल को बिछा कर पीठ के बल लेट जाइए। फिर दोनो पैरो को धीरे-धीरे उठाकर 90 अंश तक लाएं। बांहो और कोहनियों की सहायता से शरीर के निचले हीसे को इतना ऊपर ले जाए की वह कंन्धो पर सीध खड़ा हो सके। पीठ को हाथो के सहारा से पीठ को दबाएँ गले से ठुड्ठी लगाकर करे।

फिर धीरे-धीरे पूर्व अवस्था मे पहले पीठ को जमीन पर टिकाए फिर पैरो को भी धीरे से सीधा करें। यह आसन करने से मोटापा,दुबलापन,कद तथा वृद्धि की कमी एंव थकान आादि विकार दूर होते है।

What is Yoga or What is Yoga Called

READ ALSO : What are the Benefits of Cashew Milk काजू वाले दूध के क्या है फायदे

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE