Wednesday, October 27, 2021
HomeTrendingNokia Classic 6310 Features and the Success Story of Nokia Company ...

Nokia Classic 6310 Features and the Success Story of Nokia Company नोकिया मोबाइल की कहानी

Nokia Classic 6310 Features and the Success Story of Nokia Company

नोकिया ने 20वीं वर्षगांठ पर लॉन्च किया क्लासिक 6310 फोन

नोकिया 6310 ‘ब्रिक’ को कंपनी की 20वीं वर्षगांठ के लिए एक नए डिजाइन के साथ फिर से जारी किया गया है। नए फीचर्स के साथ नोकिया फिर से मार्केट में पहुंच रहा है। जो भी लोग 25 वर्ष की उम्र से अधिक होंगे उन्होंने इस फोन का दिल से इस्तेमाल किया होगा। खास बात ये है कि इसमें आने वाला स्नेक गेम तो हर किसी ने खेला होगा। रातों तक जाग-जाग कर सभी इसी में लगे रहते थे कि कहीं सांप उन्हें न काट ले।

नोकिया-6310 के फीचर्स (Nokia Classic 6310 Features and the Success Story of Nokia Company)

  • नए एडिशन में बदलाव के बाद इसमें 2.8 इंच की छोटी स्क्रीन है। जो 1.8 इंच की एक समान स्क्रीन की तुलना में है। इसमें 2001 में मूल 120×160 पिक्सेल की तुलना में 320×240 पिक्सेल शामिल होंगे।
  • नया नोकिया 6310 में बड़ी घुमावदार स्क्रीन, बेहतर पठनीयता है। इसके साथ ही कई क्लासिक विशेषताएं भी हैं जिन्हें आप जानते हैं और पसंद करते हैं।
  • इसमें शामिल है एक वायरलेस एफएम रेडियो, एक प्रभावशाली बैटरी जो चार्ज के बीच हफ्तों तक चल सकती है, और चलो क्लासिक स्नेक को न भूलें।
  • नोकिया 6310 आधुनिक दुनिया के लिए एक परिचित फोन है। लेकिन इसका लुत्फ वही उठा सकते हैं जिन्होंने इसे जवानी के दिनों में चलाया है।
  • नोकिया का हैंडसेट तीन रंगों में आता है – काला, पीला और गहरा हरा। विकल्पों में डबल सिम क्षमता के साथ 16 एमबी रैम और 8 एमबी आंतरिक भंडारण भी शामिल है, जो हमेशा आसान होता है।
  • फोन के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि नोकिया वेबसाइट पर आपको केवल £59.99 (4,515 रुपये) वापस सेट किया गया है, जो बाजार में किसी भी नए स्मार्टफोन से काफी सस्ता है।
  • भले ही फोन पूरी तरह से अलग दिखता है और बहुत अधिक विशेषताएं हैं, इंटरनेट पर लोग इस लॉन्च के बारे में उत्साहित हैं।
  • पहली बार 2001 में लॉन्च किया गया था, प्रतीत होता है कि 6310 को बाद में 2002 में 6310् के रूप में अपडेट किया गया था, 2005 में बंद होने से पहले।
  • हालाकि फिनिश कंपनी ने हाल ही में नया Nokia XR20 लॉन्च किया, जो एक लाइफ-प्रूफ स्मार्टफोन है जो जाहिर तौर पर एक स्मार्टफोन में आधुनिक समय का Nokia 3310 है और अब Nokia 6310 वापस आ गया है और पहले से बेहतर है।
  • आज तक, कई लोग 6310 और 3310 को बैकअप फोन के रूप में उपयोग करते हैं, क्योंकि उनके टिकाऊपन और बहुत लंबी बैटरी लाइफ होती है। दरअसल यह फोन आज भी कई जोक्स और मीम्स का चारा है। हम इसे बिल्कुल प्यार करते हैं।

नोकिया का इतिहास

एक समय ऐसा था जब मोबाइल मतलब नोकिया होता था। दुनिया में यह कंपनी अपने चरम तक गई और देखते ही देखते मोबाइल की दुनिया से गायब हो गई। लेकिन नोकिया दोबारा से मोबाइल की दुनिया में जुगत लगाने में जुटी है। आज हम आपको बताते हैं कि नोकिया की बनने, गिरने और फिर संभलने की कहानी बहुत दिलचस्प है। चलिए जानते हैं।

1865 में हुई थी नोकिया कंपनी की शुरूआत

नोकिया 155 साल पुरानी कंपनी है। आपको बता दें कि नोकिया कॉपोर्रेशन की शुरूआत सन 1865 में फिनलैंड में हुई थी। नोकिया कंपनी ने अनेक कारोबारों में अपने हाथ आजमाए हैं। नोकिया को सबसे पहले लुगदी मिल के रूप में स्थापित किया गया था और लंबे समय तक नोकिया रबड़ और केबल्स से जुड़ी रही।

1982 से 1987 के बीच नोकिया का सफर

वर्ष 1982 में नोकिया कंपनी का पहला कार फोन मोबिरा सेनाटोर आया।
इसके बाद नोकिया कंपनी मोबिरा ओवाई ‘Nokia-Mobira Oy’ का नाम दिया गया। इसी साल कंपनी का मोबिरा टॉकमैन 800 लॉन्च हुआ। वर्ष 1987 में मोबिरा सिटिमैन 900 को पेश किया गया जो अपने समय में बहुत प्रचलित हुआ। ये फोन 500 ग्राम वजनी था। बता दें कि सबसे भारी फोन भी नोकिया ने ही पेश किए थे। इससे पहले कंपनी ने 10 और 5 किलो के फोन पेश किए थे। कंपनी का मोबिरा सिटिमैन 900 एक स्टेटस सिंबल फोन साबित हुआ था।
वर्ष 1987 में कंपनी का नाम बदला और अब ‘Nokia-Mobira Oy’ नोकिया मोबाइल फोंस बन गई। ये वो साल था जब कंपनी दूरसंचार के क्षेत्र में प्रवेश कर चुकी थी। तो कंपनी ने फिनिश सरकार का उपक्रम टेलीफेनो में शेयर्स खरीदें।

1994 से 1998 तक नोकिया का सफर

वर्ष 1994 इसके बाद कंपनी ने Nokia 2110 का निर्माण किया। इसमें नोकिया की रिंगटोन भी सेट की गई थी।
वर्ष 1996 इस साल कंपनी ने थोड़ा सा अपग्रेडशन के साथ Nokia 8110 पेश किया जो काफी पसंद किया गया।
वर्ष 1997 अब नए फीचर्स से लैस नोकिया 6110 ने दस्तक दी।

1992 में नोकिया कम्यूनिकेशन की हुई शुरूआत

वर्ष 1992 में नोकिया ने मोबाइल के अलावा अपना बाकी का कारोबार बेच दिया। इसके साथ ही कंपनी ने सारा फोकस नोकिया कम्यूनिकेशन की ओर कर लिया। वर्ष 1992 में ही नोकिया ने पहला डिजिटल जीएसएम फोन Nokia 1011 मार्केट में लॉन्च किया। इस फोन के नामकरण के पीछे भी रोचक कहानी है। यह फोन 10 नंवबर को लॉन्च हुआ था इसलिए इसे नोकिया 1011 का नाम दिया गया। इसके बाद नोकिया ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। इसके तुरंत बाद नोकिया ने एरियल के साथ Nokia 101 मार्केट में उतारा।

नोकिया 3जी फोन

वर्ष 2002 तक 3जी की शुरूआत हो चुकी थी। नोकिया ने भी साल 2002 में अपना पहला 3जी फोन बनाया। ये फोन था Nokia 6650। इसके बाद कंपनी का रंगीन फोन 7650 लॉन्च किया गया। इसके अलावा, पहला वीडियो रिकॉर्ड में सक्षम मॉडल Nokia 3650 भी बनाया गया।

वर्ष 2003 में आया Nokia 1100

2003 में नोकिया ने यूजर्स के नए गेमिंग फीचर्स पेश करनी की सोची और अपना वीडियो गेम वाला N-Gage निकाला। इस साल एक ऐसा फोन भी मार्केट में उतारा जिसने सारी रिकॉर्ड्स तोड़ दिए। ये फोन था नोकिया 1100। ये सेट इतना अधिक लोकप्रिय हुआ कि दुनिया भर में इस मॉडल की 250 मिलियन यूनिट्स की सेल हुई।

2005 में नोकिया का दुनिया की 60 फीसदी मार्केट पर कब्जा

नोकिया तेजी से आगे बढ़ रही थी। चोटी पर पहुंच चुकी नोकिया ने साल 2005 में अपनी N Series के तहत N 71, N 81 के साथ N 95 को उतारा। ये भी एक शानदार सीरीज साबित हुई। इसके अलावा ExpressMusic और ‘E’ सीरीज भी बच्चे बच्चे की जुबान पर रहने लगी। साल 2005 में नोकिया का दुनिया की 60 फीसदी मार्केट पर कब्जा हो गया था।

कैसे शुरू हुआ नोकिया का डाउनफॉल

नोकिया के साथ-साथ सैमसंग भी मार्केट में उतर चुका था। शिखर पर पहुंच चुकी कंपनी ने नया प्रयोग नहीं किया और एंड्रॉयड की दुनिया में सैमसंग ने धूम मचा दी। 2007 में ही एप्पल का आईफोन 3जी आया। इस दौरान नोकिया ने वर्ष 1998 सिंबियन मार्केट में लॉन्च किया, लेकिन ये चल नहीं सका।

साल 2011 में आया Lumia 800

साल 2011 में नोकिया को विंडोज ओएस बेस्ड लुमिया 800 आया। इस फोन की चर्चा तो हुई लेकिन ये फोन भी नोकिया के अच्छे दिन नहीं ला सका। साल 2011 में फिर नोकिया का फीचर फोन में आशा मॉडल आया। मगर निराशा के अलावा कंपनी को कुछ नहीं मिला। इसके बाद 808, लुमिया 960 और लुमिया 1020 जैसे शानदार विंडोज फोन तो आएं लेकिन लोगों को विंडोज ओएस पसंद नहीं आया। इसके बाद साल 2013 में माइक्रोसॉफ्ट ने नोकिया का अधिग्रहण कर लिया। नोकिया के सफर पर विराम लग गया।

Tallest Woman In The World रुमेसा गेलगी दुनिया की सबसे लंबी महिला

India Coal Power Crisis Renewable Energy

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE

Amit Guptahttp://indianews.in
Managing Editor @aajsamaaj , @ITVNetworkin | Author of 6 Books, Play and Novel| Workalcholic | Hate Hypocrisy | RTs aren't Endorsements
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -
SHARE